Top

जनता को भाजपा के खतरनाक इरादों से सावधान रहना होगा

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 4 April 2017 1:24 PM GMT

जनता को भाजपा के खतरनाक इरादों से सावधान रहना होगा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : समाजवादी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने आज लखनऊ में कहा कि अफवाह और दुष्प्रचार राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के लिए साध्य-साधन हैं। अपने मातृ संगठन के पद चिन्हों पर चलते हुए भारतीय जनता पार्टी ने वही रास्ते अख्तियार कर लिए हैं। उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनते ही गोएबल्स के अनुयायी सक्रिय हो उठे हैं। यही वे लोग थे जिन्होंने लोकसभा के चुनावों के बाद विधानसभा के चुनावों में भी जनता को बहकाने में कुछ उठा नहीं रखा था।

ये भी देखें : CM योगी के घर से कांग्रेस पार्टी हुई बेघर, न्यायालय ने खाली कराया दफ्तर

उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बन जाने के बाद से बदलाव के नाम पर अखिलेश यादव के नेतृत्व में बनी समाजवादी सरकार के निर्णयों पर प्रश्नचिन्ह लगाना शुरू कर दिया है। विभिन्न संस्थाओं में निर्वाचित प्रतिनिधियों को हटाने में भी योगी सरकार लगी है। इस भाजपा सरकार का समाजवादी सरकार के प्रति हर काम पूर्वाग्रह से ग्रस्त है और विद्वेषपूर्ण व्यवहार किया जाना भाजपा अपना धर्म मानती है।

अखिलेश यादव ने गरीबी और बेकारी के खिलाफ कड़े निर्णय लेते हुए नौजवानों की नौकरियों में भर्ती खोली थी। वर्षों से खाली पड़े तमाम विभागीय पदों पर पारदर्शी तरीके से भर्तियां की थी। इससे नौजवानों को सम्मान पूर्वक जीवन जीने का अवसर मिला। समाजवादी सरकार के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने मुख्यमंत्रित्वकाल में पांच लाख बेकारों को नौकरी की व्यवस्था की थी। दोनों की सच्चाई यह है कि समाजवादी सरकार का कोई भी कार्य भेद भाव पूर्ण नहीं रहा जबकि भाजपा ने यह तय कर रखा है कि अखिलेश यादव के प्रत्येक व्यापक जनहित कार्य को जाति विशेष से सम्बद्ध करना ही है।

आज भाजपा नौजवानों की नौकरियों पर, उनकी वैध नियुक्तियों पर सवाल खड़े कर रही है। यह समाजवादी सरकार के कामों के प्रति जनता में भ्रांति फैलाने की साजिश है और प्रदेश की युवा शक्ति को भी लांछित करने वाला काम है। भाजपा रस्सी को सांप बताकर लोगों को बहका रही है और समाजवादी सरकार की उपलब्धियों की छवि बिगाड़ रही है। यह लोकतांत्रिक व्यवस्था को कमजोर करने का षडयंत्र है। जनता को भाजपा के खतरनाक इरादों से सावधान रहना होगा।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story