Top

हंगामे की भेंट चढ़ गई कांग्रेस की बैठक, प्रभारी के सामने दनादन चलीं कुर्सियां

काफी देर तक जब हो हल्ला चलता रहा। उसके बाद बीच में से ही पार्टी के सीनियर लीडर भक्त चरण दास, प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, अजीत शर्मा जैसे नेता आ गये और फिर हंगामा कर रहे लोगों को समझाया।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 12 Jan 2021 1:11 PM GMT

हंगामे की भेंट चढ़ गई कांग्रेस की बैठक, प्रभारी के सामने दनादन चलीं कुर्सियां
X
आज जैसे ही बैठक शुरू हुई। किसान नेता राजकुमार राजन ने पार्टी के प्रदेश नेतृत्व पर मनमानी करने और विधानसभा चुनावों में टिकटों की खरीद फरोख्त का मुददा उठाया।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पटना: बिहार में कांग्रेस पार्टी की बैठक के दौरान दो गुट आमने -सामने आ गए। कांग्रेसियों ने एक दूसरे के ऊपर कुर्सियां फेंकी, धक्कां-मुक्की की और जमकर बवाला काटा।

ये सब कुछ बिहार के नवनियुक्त प्रभारी भक्त चरण दास की मौजूदगी में हुआ। बताया जा रहा है कि बागी नेताओं में शामिल राजकुमार राजन को बोलने से रोकने के बाद एक गुट नाराज हो गया।

इसके बाद दोनों गुटों के बीच कहासुनी शुरू हो गई और बाद में मारपीट की नौबत आ गई। काफी देर तक हंगामा चलता रहा। बहुत देर तक पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने दोनों पक्षों के लोगों को समझाया। उसके बाद कांग्रेसी शांत हुए।

भूपेंद्र यादव के दावे से बिहार में सियासी भूचाल, भड़के राजद नेताओं ने किया पलटवार

Congress Party हंगामे की भेंट चढ़ गई कांग्रेस की बैठक, प्रभारी के सामने दनादन चलीं कुर्सियां (फोटो: सोशल मीडिया)

टिकटों की खरीद फरोख्त का लगाया आरोप

दरअसल आज जैसे ही बैठक शुरू हुई। किसान नेता राजकुमार राजन ने पार्टी के प्रदेश नेतृत्व पर मनमानी करने और विधानसभा चुनावों में टिकटों की खरीद फरोख्त का मुददा उठाया।

अभी उन्होंने बोलना शुरू ही किया था कि प्रदेश नेतृत्व के कई नेताओं ने उन्हें चुप कराने की कोशिश की। वहां पर प्रभारी भक्त चरण दास भी मौजूद थे। वह चुपचाप ये सबकुछ देख रहे थे।

लोग राजकुमार राजन को चुप कराने की कोशिश कर रहे थे पर वे लगातार बोलते जा रहे थे। जिसके बाद पार्टी के कुछ नेता उन्हें ललकारते हुए उनकी ओर बढ़े। जिसके बाद बागी खेमे के नेता भी सामने आ गए और पार्टी के दोनों गुटों के बीच खींचतान और धक्कामुक्की शुरू ही गयी। नेताओं ने एक दूसरे पर कुर्सियां भी चलाई।

Bihar Congress हंगामे की भेंट चढ़ गई कांग्रेस की बैठक, प्रभारी के सामने दनादन चलीं कुर्सियां (फोटो: सोशल मीडिया)

बिहार NDA में अंदरूनी खींचतान, नीतीश ने भाजपा को घेरा तो मांझी भी समर्थन में कूदे

वरिष्ठों के काफी मान मन्नौवल के बाद शांत हुए कांग्रेसी

काफी देर तक जब हो हल्ला चलता रहा। उसके बाद बीच में से ही पार्टी के सीनियर लीडर भक्त चरण दास, प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, अजीत शर्मा जैसे नेता आ गये और फिर हंगामा कर रहे लोगों को समझाया।

लेकिन नेता शांत होने का नाम नहीं ले रहे थे। बीच-बचाव में कई और नेता कूदे तब जाकर बागी शांत हुए। इसके बाद बैठक की कार्यवाही आगे बढ़ पाई।

उमेश कुशवाहा को बनाया गया JDU का प्रदेश अध्यक्ष, जानिए उनके बारें में सबकुछ

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story