अमित शाह ने किया रोड़ शो, केजरीवाल सरकार पर बोला हमला

केंद्रीय गृहमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्‍ठ नेता अमित शाह दिल्‍ली चुनाव को लेकर गुरुवार को पदयात्रा करने वाले हैं। अमित शाह पदयात्रा कर केजरीवाल…

नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्‍ठ नेता अमित शाह दिल्‍ली चुनाव को लेकर आज पदयात्रा कर रहें हैं। अमित शाह पदयात्रा कर केजरीवाल को चुनौती  पेश कर सकते हैं। इस बार भारतीय जनता पार्टी ने दिल्‍ली के सीएम केजरीवाल पर  काम नहीं करने का आरोप लगाया है।

दिल्ली:  ये भी पढ़ें:मणिपुर में ब्लास्ट: धमाके से हिल गया शहर, सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेरा

वहीं, केजरीवाल ने दिल्‍ली में जनता से काम के आधार पर वोट करने को कहा है। अमित शाह नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में गुरुवार की शाम को उत्तमनगर में पदयात्रा की हैं।

इसके मद्देनजर भारी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात हैं। यहां दिल्ली पुलिस के अलावा केंद्रीय अर्द्ध सैनिक बल के जवान भी तैनात हैं।

 

 

 

 

धारा 370 पर बोले शाह

– अमित शाह ने कहा कि राहुल बाबा और कंपनी तैयार थी, उन्होंने तुरंत आपत्ति जताई थी और कहा था कि धारा 370 को निरस्त मत करो, खून-खराबा होगा। यह मोदी सरकार है, एक भी गोली नहीं चलाई गई और अब जम्मू-कश्मीर पूरी तरह से भारत का हिस्सा बन गया है।

 

दिल्‍ली के विकास पर साधा निशाना

-अमित शाह ने कहा कि साढ़े चार साल केजरीवाल ने यह कहते हुए गुजार दिए की पीएम मोदी उन्‍हें काम करने नहीं देते हैं। इस कारण दिल्‍ली में विकास काम नहीं हो रहा। लेकिन, अब कह रहे हैं कि दिल्‍ली में पांच साल में विकास हुआ, ‘लगे रहो केजरीवाल’।

 

ये भी पढ़ें:मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर को दी सौगात, 80 हजार करोड़ के पैकेज का किया ऐलान

कुल 280 जनसभा होंगी आयोजित:

प्रचार अभियान 23 जनवरी यानी आज से शुरू होगा। कुल 280 जनसभा आयोजित की जाएंगी। 23 और 24 जनवरी को मंत्री पदयात्राओं के साथ जनसभाएं भी करेंगे। इनके क्षेत्र भी तय कर दिए गए हैं। शाह ने मंत्रियों से कहा कि भले ही जनसभा में भीड़ कम हो लेकिन सभाएं जरूर होनी चाहिए। भाजपा युवा और महिला सम्मेलन भी करेगी। इसके लिए भी तारीखें तय कर दी गई हैं। इसके अलावा बाइक रैली भी आयोजित की जाएंगी।

गौरतलब है कि दिल्ली में 8 फरवरी को एक ही चरण में मतदान होगा। नतीजे 11 फरवरी को आएंगे। मंगलवार 21 जनवरी को नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख थी।

ये भी पढ़ें:बीजेपी की कमान संभालने के बाद आगरा में पहली रैली करेंगे जेपी नड्डा

पुराने वादों की दिलाई याद

– अमित शाह ने रैली के शुरू करते ही सबसे पहले दिल्‍ली के सीएम केजरीवाल को निशाने पर लिया। उन्‍होंने कहा कि हम केजरीवाल को उनके पुराने वादे याद दिलाने आए हैं। भाजपा के कार्यकर्ता और दिल्‍ली की जनता उसे भूली नहीं है। आप अन्‍ना की मदद से सीएम बन गए लेकिन लोकपाल नहीं ला पाए। पीएम मोदी ने इसे लाया मगर आपने इसे नहीं अपनाया।