Top

VIDEO: एंटी रोमियो स्क्वॉयड किसी को परेशान करने के लिए नहीं है- डॉ. महेंद्र सिंह

उत्तर प्रदेश में सरकार में मंत्रियों के विभाग बंटने के बाद अब मंत्रियों ने कामकाज संभाल लिया है। कामकाज संभालते ही ग्राम विकास, समग्र ग्राम राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. महेंद्र सिंह ने अपना भारत और Newstrack.com से एक्सक्लूसिव बातचीत की।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 23 March 2017 3:05 PM GMT

VIDEO: एंटी रोमियो स्क्वॉयड किसी को परेशान करने के लिए नहीं है- डॉ. महेंद्र सिंह
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Anurag Shukla

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्रियों के विभाग बंटने के बाद अब मंत्रियों ने कामकाज संभाल लिया है। कामकाज संभालते ही ग्राम विकास, समग्र ग्राम राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. महेंद्र सिंह ने अपना भारत और Newstrack.com से एक्सक्लूसिव बातचीत की। बातचीत में उन्होंने कहा कि एंटी रोमिया स्क्वॉयड का मकसद किसी को परेशान करना नहीं है, बल्कि लड़कियों और महिलाओं की सुरक्षा करना है। साथ ही डॉ. महेंद्र सिंह ने साफ किया कि मनरेगा में अखिलेश यादव समेत पूरे प्रदेश में पिछले एक दशक में हुए घोटालों की जांच होगी और दोषी पाए जाने पर कार्रवाई भी होगी। इसके साथ ही। पेश है अपना भारत से एक्सक्लूसिव बातचीत के मुख्य अंश...

सवाल- महेंद्र जी आपको बधाई कि आपकी पार्टी की सरकार बनी। सवाल यही है कि पूरी सरकार की सबसे बड़ी प्राथमिकता क्या होगी?

हमको लगता है कि मुख्यमंत्री जी के निर्देशानुसार सभी विभागों के कामकाज शुरु होने से पहले ही स्वच्छता की शपथ ली गई है। किसी भी कार्यक्रम के शुरु होने से पहले यह काम किया गया है। स्वच्छता प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का बहुत बड़ा अभियान है और स्वच्छता का मतलब है कि हर तरह की स्वच्छता होनी चाहिए। ऐसे में हमारी सरकार की सबसे बड़ी चुनौती है कि प्रदेश को किस तरह से गुंडाराज और भ्रष्टाचार से मुक्त रखा जाए। सभी विभागों को भ्रष्टाचार मुक्त रखना है। ऐसे में साफ है कि मेरी जिम्मेदारी सबसे पहले अपने विभाग में किसी तरह के भ्रष्टाचार को जगह नहीं देनी की होगी।

सवाल- आपने अपने विभाग में क्या-क्या निर्देश दिए हैं ?

सुबह कार्यभार ग्रहण करने के बाद हमने अपने दोनों विभागों में स्वच्छता की शपथ दिलाई और विभाग का बजट देखा। मैंने अपने विभाग के सभी कर्मचारी अधिकारियों को मुख्यमंत्री की भावना के मुताबिक अवगत करा दिया है कि विभाग में कहीं भी गुटखा पान मसाला, तंबाकू नहीं चलेगा। किसी भी सेक्शन में गंदगी नहीं चलेगी। यह भी मैंने बता दिया है कि हर अधिकारी कर्मचारी को बता दिया है कि वह सुबह साढे 9 बजे से शाम छह बजे तक अपनी सीट पर रहेगा और जनता की सुनेगा।

सवाल- अपने विभाग से आप खुश हैं?

बिल्कुल बहुत खुश मेरा ऐसा विभाग है जिसमें प्रधानमंत्री जी के सपनो को साकार किया जा सकता है। प्रधानमंत्री जी के एजेंडे में गांव और गरीब है। माननीय मुख्यमंत्री योगी जी के एजेंडे में भी गांव और गरीब है। ऐसे में इस विभाग में काम करने को बहुत कुछ है। मैं अपने नेताओं के सपनों को सच कर सकूंगा और जनता की सेवा करने का इसमें भरपूर मौका मिलेगा। गांव के विकास के बिना आप प्रदेश और देश के विकास की बात नहीं कर सकते हैं।

सवाल- आपके विभागो में सबसे पहले आप गांव के विकास के लिए किन चीजों पर फोकस करने वाले हैं?

मेरे विचार से गांव को सबसे पहले चलने के लिए सड़क, पीने के लिए पानी, समुचित जल की व्यवस्था, प्रकाश की व्यवस्था है। इसके अलावा अगर कोई बीमारी हो तो गांव में ही उनको इलाज मिल जाए। जिससे किसी को बड़े अस्पताल से पहुंचने से पहले तक दवा और इलाज का अभाव न रहे। बच्चों को पढ़ने के लिए समुचित और स्तरीय स्कूल। इसके अलावा हर गांव की एक बहुत बड़ी समस्या जल निकासी की है। अगर जल निकासी की हर गांव की समस्या हल हो जाय तो हम समग्रता की ओर बढ़ जाएंगे।

सवाल- आप कह रहे हैं कि आपने अभी विभाग की कुछ जानकारी ली है। पहली नज़र में क्या लग रहा है कि आपके विभाग पूरी तंत्र को किस हाल में छोडा है पिछली सरकार ने ?

बहुत खराब हालात है। बहुत खराब हाल में छोड़कर गये हैं अखिलेश यादव जी। जो बजट आवंटित किया गया था उसका 20-24 फीसदी ही खर्च हो सका है। अब वित्तीय वर्ष खत्म होने में 10 दिन भी नहीं रह गये हैं। वर्ष समापन की ओर है तो सबसे बड़ी चुनौती है कि बजट को लैप्स न होने देकर जनता की भलाई के लगाया जाय। जितने प्रोजेक्ट हैं वह पूरे हो सकें जनता को लाभ मिले यह सबसे बड़ी चुनौती है।

सवाल- पिछली सरकार पर घोटाले का आरोप लगे हैं। मनरेगा आपके विभाग में है क्या आप जांच करेंगे ?

देखिए हमने अपने संकल्प पत्र में लिखा है कि हम पिछले दशक में हर घोटाले की हर हाल में घोटाले रोकेंगे। ऐसे में हम अपने विभाग में तो कह सकते हैं कि हम मनरेगा की विस्तृत जांच कराएंगे। और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।

सवाल- इस समय सबसे बड़ा सवाल की एंटी रोमियो दल सरकार की मंशा नहीं समझ पाया लोगों का उत्पीड़न हो रहा है ?

सीएम योगी और सरकार की मंशा है कि किसी भी बहन बेटी से कोई अभद्र व्यवहार न कर सके। बहन बेटी अपने गंतव्य पर जा सके और लौट कर आ सकें। उन्हें कानून का राज दिखाई देय़ इसके लिए ही हमारे संकल्प पत्र में एंटी रोमियो दल के गठन करने की बात की जाएगी। लेकिन इसमें दो भाई बहन जा रहे है, कोई मित्र जा रहे हैं या कोई भी दो व्यस्क खडे है, कोई पढने वाले विद्यार्थी जा रहे, बातचीत कर रहे हैं उन्हें प्रताड़ित करने की कोई भी मंशा नहीं है। लेकिन अगर किसी चौराहे पर किसी बहन बेटी के साथ अभद्र व्यवहार हुआ तो, कोई फब्तियां कसता है तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। बहन बेटियों के इज्जत हमारे लिए सबसे महत्वपूर्ण है।

अगली स्लाइड में देखिये वीडियो

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story