Top

बीजेपी के घोष बाबू को ममता दी नजर आने लगी हैं PM मटिरियल

बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने पीएम के तौर पर सीएम ममता बनर्जी का समर्थन किया। पीएम उम्मीदवारी पर ममता कह चुकी हैं कि चुनाव के बाद ही इस पर चर्चा हो सकती है। घोष ने कहा, ''हम चाहते हैं कि वे सेहतमंद रहें ताकि अच्छा काम कर सकें। यह जरूरी है, क्योंकि अगर किसी बंगाली के पीएम बनने की संभावनाएं हैं तो उनमें वही एक हैं।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 6 Jan 2019 5:18 AM GMT

बीजेपी के घोष बाबू को ममता दी नजर आने लगी हैं PM मटिरियल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कोलकाता : बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने पीएम के तौर पर सीएम ममता बनर्जी का समर्थन किया। पीएम उम्मीदवारी पर ममता कह चुकी हैं कि चुनाव के बाद ही इस पर चर्चा हो सकती है। घोष ने कहा, ''हम चाहते हैं कि वे सेहतमंद रहें ताकि अच्छा काम कर सकें। यह जरूरी है, क्योंकि अगर किसी बंगाली के पीएम बनने की संभावनाएं हैं तो उनमें वही एक हैं।

ये भी देखें : नीतीश के बेटे के पास पापा से अधिक संपत्ति, सीएम के पास कृषि भूमि भी नहीं

और क्या बोले घोष

ममता को जन्मदिन की शुभकामनाएं देते हुए घोष ने कहा, मैं उनकी अच्छी सेहत और जिंदगी में कामयाबी की दुआ करता हूं। हमारे राज्य का भविष्य उनकी सफलता पर निर्भर करता है।

ये भी देखें : खुफिया कैमरे की पकड़ में आये घूस मांगने वाले यूपी के तीन मंत्रियों के निजी सचिव हुए गिरफ्तार

उन्होंने कहा, अगर किसी बंगाली के पीएम बनने की संभावनाएं हैं तो एक वही हैं। हम चाहते हैं कि वह फिट रहें ताकि वह अच्छा काम कर सकें। उन्हें फिट रहने की जरूरत है। ज्योति बसु के पास एक अच्छा मौका था पीएम बनने का, मगर उन्होंने यह मौका खो दिया। उनकी पार्टी ने ही उन्हें पीएम नहीं बनने दिया।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story