Top

इंदिरा जन्मशताब्दी समारोह में कांग्रेस नेताओं ने मांगा समर्थन, धक्कामुक्की

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 4 Oct 2017 2:19 PM GMT

इंदिरा जन्मशताब्दी समारोह में कांग्रेस नेताओं ने मांगा समर्थन, धक्कामुक्की
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेरठ। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की जन्मशताब्दी पर बुधवार को कांग्रेस ने स्मरण उत्सव मनाया। इसका आयोजन चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के नेताजी सुभाषचंद्र बोस सभागार में किया गया। इस दौरान कुछ युवानेता मंच पर चढ गए। जिसके बाद कांग्रेस प्रदेशध्यक्ष राजबब्बर खासे नाराज हो गए।

ये भी देखें: राहुल का मोदी पर हमला, बोले- काम नहीं हो रहा तो बताएं, हम 6 महीने में कर देंगे

मंच पर आते ही धक्कामुक्की

-कार्यक्रम में मेरठ, सहारनपुर, मुरादाबाद मंडल के कांग्रेस कार्यकर्ताओं नेताओं ने हिस्सा लिया। मंच पर यूपी प्रभारी गुलाम नबी आजाद, प्रदेशध्यक्ष राज बब्बर, पूर्व केंद्रीय मंत्री मोहसिना किदवई, वरिष्ठ नेता नगमा समेत अन्य नेता थे।

-नेताओं को अपना चेहरा दिखाने की होड़ में मंच पर ही धक्कामुक्की शुरू हो गई। जिसके बाद राज बब्बर को उठकर आना पडा।

-बब्बर मंच पर कार्यकर्ताओं के पास पहुंचे और उन्हे मंच से नीचे जाने के लिए कहा।

ये भी देखें: बढ़ी मुश्किलें ! राम रहीम, हनी को भेजा गया UN का Tweet निकला फर्जी

क्या बोले गुलाम नबी आजाद

-प्रदेश प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने कहा कि आज लोग विचारधारा से नही जुड़ते। इधर-उधर छलांग लगाते रहते हैं।

-इंदिरा में अदभुत नेतृत्व क्षमता थी। प्रधानमंत्री के रूप में उन्होंने कभी देश का सिर झुकने नहीं दिया। अपनी हिम्मत और संघर्ष से उन्होंने भारत को दुनिया के मजबूत देशों की कतार में खड़ा किया।

-संगठन और सरकार चलाने की जो काबिलियत इंदिरा में थी, उससे सीख लेनी की जरूरत है। आज देश की एकता और अखंडता खतरे में है।

-फिर से जागने और देश की जनता को जगाने की जरूरत है। उन्होंने कार्यकर्ताओं को नेहरू और इंदिरा के इतिहास को पढ़ने और संगठन को मजबूत बनाने की नसीहत दी।

-आज जरूरत है, कांग्रेस की राजनीतिक विरासत को जिंदा रखने की। अपने लिए, जनता के लिए और देश के लिए। तभी भारत विकास के पथ पर अग्रसर होगा।

-बीजेपी सरकार ने रोजगार देने की बात कही। लेकिन यह वादा पूरा नहीं किया। अब कार्यकर्ताओं को एकजुट होने की जरूरत है।

ये भी देखें: दबंग युवक ने महिला से किया रेप का प्रयास, तंग आकर सड़क पर रहने को मजबूर

इंदिरा ने देश को एक करने का काम किया

-राज बब्बर ने कहा कि देश में छद्म राष्ट्रवाद चल रहा है। सेवा और स्वार्थ को समझना होगा और कुर्बानी देनी होगी, तभी देश मजबूत होगा। यह काम इंदिरा गांधी ने किया है।

-योजनाओं के नाम बदले जा रहे है। चौधरी चरण सिंह ने भी कांग्रेस की सोच के साथ काम किया।

-पूर्व मंत्री मोहसिना किदवई ने कहा कि मौजूदा समय में देश की जो हालत है, उसमें देश को एकजुट रखने और दुनिया में भारत की ताकत का लोहा मनवाने के लिए इंदिरा गांधी के दिखाए रास्ते पर ही चलने की जरूरत है।

-कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा कि यूपी की धरती से कांग्रेस इतिहास लिखेगी। पीएल पुनिया ने कहा कि इंदिरा गांधी के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story