Top

भाजपा के ओबीसी कार्ड पर माया का पलटवार,  कहा - छलना चाहती है भाजपा

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 2 Aug 2018 12:01 PM GMT

भाजपा के ओबीसी कार्ड पर माया का पलटवार,  कहा - छलना चाहती है भाजपा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: भाजपा के ओबीसी कार्ड पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने पलटवार करते हुए कहा है कि बीजेपी चुनाव के समय में ओबीसी वर्गों को छलना चाहती है। उनको लुभाने के लिए संसद में पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने का विधेयक लाया गया है। मण्डल कमीशन की यादें ताजा करते हुए उन्होंने अन्य पिछड़े वर्ग के लोगों को सतर्क रहने की नसीहत दी है। उन्‍होंने कहा कि इन वर्गों को सावधान रहने की जरूरत है।

मायावती बोलीं- चार साल में कुछ नहीं किया

मायावती ने दुख जताते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने पिछले लगभग सवा चार वर्षों के शासनकाल में ऐसा कुछ भी नहीं किया है पर लोकसभा व मध्यप्रदेश, राजस्थान व छत्तीसगढ़ के चुनाव नजदीक हैं तो अब पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने सम्बन्धी विधेयक संसद में लाकर उन्हें लुभाने का प्रयास किया जा रहा है ताकि चुनाव में इनका कुछ वोट हासिल कर लिया जाये।

उन्होंने कहा कि यदि केंद्र सरकार की नीयत साफ होती तो मोदी सरकार बनने के पहले साल में ही यह काम कर सकते थे। पर उस समय वह नया भूमि अधिग्रहण कानून बनाने में लगे थे। उसके लिये बार-बार अध्यादेश लाए जा रहे थे। ताकि बड़े-बडे पूंजीपतियों को खुश रख सके। बसपा सुप्रीमों ने कहा कि मण्डल आयोग की सिफारिश को लागू करने के फैसले का तीव्र विरोध देश भर में क्यों किया था। इसके विरोध में सन् 1990 में वी.पी. सिंह की गठबन्धन वाली ग़ैर-कांग्रेसी सरकार को क्यों गिरा दिया था?

उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकारों में काफी लम्बे समय से लम्बित पड़े रहे मण्डल आयोग की रिपोर्ट को लागू करने के लिये बीएसपी ने वीपी सिंह सरकार को समर्थन देने की एक शर्त यह भी रखी थी और इसे फिर लागू भी करवाया तथा इससे पहले मण्डल आयोग की रिपोर्ट को लागू करने के लिये देशव्यापी आन्दोलन भी चलाया।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story