Politics

प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के मुताबिक प्रधानमंत्री के उम्मीदवारी वाले क्षेत्र वाराणसी समेत राज्य की 13 लोकसभा सीटों पर मतदान रविवार सुबह सात बजे शुरू होकर शाम छह बजे तक चलेगा।

सेसा फुटबॉल अकादमी द्वारा शुक्रवार को आयोजित एक कार्यक्रम में सावंत ने कहा, "राज्य सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि खनन उद्योग एक बार फिर से शुरू हो।"

भोपाल से बीजेपी लोकसभा कैंडिडेट और मालेगांव टेरर ब्‍लास्‍ट केस की आरोपी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के हालिया बयान से राजनीतिक तूफान उठा हुआ है। उन्‍होंने गुरुवार को महात्मा गांधी के हत्‍यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्‍त बताया था।

आजाद उर्फ रावण ने कहा, ‘‘मैं गुजरात इसलिए आया हूं क्योंकि हाल में दलितों पर अत्याचार की कई घटनाएं हुई है। ऐसा लगता है कि गुजरात में संविधान के प्रावधान लागू नहीं होते। नागरिकों को भेदभाव से बचाने वाले संविधान के अनुच्छेद 15 को गुजरात सरकार ने हटा दिया है।’’

गौरतलब है कि भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ने कुछ दिन पहले एक सवाल के जवाब में कहा था कि महात्मा गांधी के हत्यारे गोडसे सबसे बड़े देशभक्त थे और जो लोग उन्हें आतंकवादी कहते हैं, वे अपने गिरेबां में झांककर देखें।

पांच बार विधायक रहे शिवदासन के. करुणाकरण और ए के एंटनी के नेतृत्व वाली सरकारों का हिस्सा रहे थे और उनके पास श्रम, आबकारी, वन और वन्यजीव समेत कई विभाग थे।

गोवा जल संसाधन विभाग के अधीक्षण अभियंता बी.वी पुजारी ने कहा, ‘‘राज्य के बांधों में पर्याप्त पानी है। और अगर मानसून के पहुंचने में देरी होती है तो चिंता की कोई बात नहीं क्योंकि पानी का भंडारण एक महीने के लिए पर्याप्त है।’’

कौशल विकास मंत्री हेगड़े ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘ये मंदबुद्धि राहुल गांधी इस बात को साबित करने पर तुले हुये हैं कि उनके पास अपनी तरह का विशिष्ट अंतरराष्ट्रीय मूर्खता कौशल है और अब यह सारी हदें पार कर गया है । उन्हें कोई नहीं रोक सकता.. अद्भुत...!!!!’’

सिब्बल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘जब साध्वी प्रज्ञा, गोडसे को देशभक्त बताती हैं और ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा क्षतिग्रस्त की जाती है तो मोदी खामोश रहते हैं। मैं यही प्रार्थना और आशा कर सकता हूं कि मूक बने ज्यादातर लोग हिंसा को दरकिनार करेंगे।’’

साध्वी प्रज्ञा ने एक्टर कमल हासन के नाथूराम गोडसे वाले बयान पर कुछ ऐसा बयान दिया था जिससे कि उनकी पार्टी ने भी किनारा कर लिया था।