Top

हरिशंकर तिवारी के घर पर पुलिस की छापेमारी ने लिया राजनीतिक रंग, बसपाइयों का विरोध शुरू

उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री हरिशंकर तिवारी के आवास पर शनिवार को पुलिस ने छापेमारी की इसी के विरोध में बसपा कार्यकर्ताओं ने सोमवार (24 अप्रैल) को जिलाधिकारी कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 24 April 2017 9:21 AM GMT

हरिशंकर तिवारी के घर पर पुलिस की छापेमारी ने लिया राजनीतिक रंग, बसपाइयों का विरोध शुरू
X
हरिशंकर तिवारी के घर पर पुलिस की छ्पेमारी ने लिया राजनीतिक रंग, विरोध प्रदर्शन शुरू
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री हरिशंकर तिवारी के आवास 'हाता' में पुलिस छापेमारी ने राजनीतिक रंग लेना शुरू कर दिया है। इसी के विरोध में बसपा कार्यकर्ताओं ने सोमवार (24 अप्रैल) को जिलाधिकारी कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया।

उधर चल रहा था धरना, इधर हरिशंकर तिवारी संग फोटो खिचाने में मशरूफ रहे लोग

खुद हरिशंकर तिवारी और उनके बेटे चिल्लूपार विधान सभा क्षेत्र से बसपा विधायक विनय शंकर तिवारी भी धरना-प्रदर्शन में आए। बड़ी संख्या में बसपा के कार्यकर्ता और तिवारी परिवार के समर्थक धरनास्थल पर जुटे। जिस वक्त विरोध प्रदर्शन चल रहा था उसी वक्त धरनास्थल से कुछ दूर बैठे हरिशंकर तिवारी के संग लोग फोटो खींचने में व्यस्त रहे। हरिशंकर तिवारी खुद हाता से निकल कर पैदल ही जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे।

गर्मी की वजह से उनके समर्थकों ने कुछ दूरी पर एक पेड़ के नीचे हरिशंकर तिवारी को बैठा दिया। जिसके बाद लोग हरिशंकर तिवारी के पैर भी छूते नजर आए। ख़ास बात यह है कि लोग हरिशंकर तिवारी का पैर छूते हुए फोटो खिंचवाने में व्यस्त रहे।

धरना प्रदर्शन में शामिल लोगों ने आक्रोशित होकर 'पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद', 'योगी सरकार मुर्दाबाद', 'योगी सरकार होश में आओ' और 'पुलिस के बल पर गुंडागर्दी नहीं चलेगी' के नारे लगाए।

यह भी पढ़ें … योगी के CM बनते ही सिंघम बनी यूपी पुलिस, हरिशंकर तिवारी के घर मारा छापा

बसपाइयों का कहना है कि राजनीतिक प्रतिद्वंदिता में हरिशंकर तिवारी के घर 'हाता' पर बिना सर्च वारंट के पुलिस ने छापेमारी की। यह कार्रवाई सीएम योगी आदित्यनाथ के इशारे पर की गई है। हालांकि जिला प्रशासन ने माहौल को देखते हुए जिलाधिकारी कार्यालय परिसर के मुख्य द्वार को छोड़कर अन्य सभी द्वार को बंद कर पूरे परिसर में पुलिस फोर्स तैनात कर दी।

क्या है मामला ?

-पुलिस फोर्स शनिवार (22 अप्रैल) को एसपी सिटी हेमराज मीना के नेतृत्व में पंडित हरिशंकर तिवारी के घर पहुंची और पूरा घर खंगाल मारा।

-पुलिस की माने, तो बीते मार्च महीने में गोरखपुर में हुई 98 लाख की लूट के एक आरोपी ने पुलिस को सोनू पाठक नाम के एक शख्स के बारे में बताया था।

-उसने पुलिस को बताया कि इस लूट में सोनू भी शामिल था और उसका हरिशंकर तिवारी के घर पर आना जाना था।

-इस जानकारी पर उक्त अभियुक्त को लेकर पुलिस पंडित हरिशंकर तिवारी के घर पहुंची और छापेमारी की।

-इस दौरान पुलिस को घर से कुछ संदिग्ध लोग मिले।

-जिनको पुलिस ने पूछताछ के लिए पकड़ा तो उनमें से एक के पास जिंदा कारतूस भी बरामद हुआ।

-पुलिस ने 6 लोगों को हिरासत में लिया। जिनसे पूछताछ की जा रही है।

यह भी पढ़ें … रामू की आग पड़ी ठंडी, बोले- देश का अगला PM हों योगी, मोदी से बेहतर बताई थी बच्चन सरकार

क्या कहा एसपी सिटी ने ?

-एसपी सिटी ने बताया कि छोटू चौबे जो कि पुलिस की हिरासत में था आज उसको रिमांड पर लिया गया।

-उसने ही पूरे मामले में सोनू पाठक के शामिल होने की बात बताई थी।

यह भी पढ़ें … यूपी के नए डीजीपी सुलखान सिंह का पहला इन्टरव्यू सिर्फ न्यूज़ट्रैक पर, इन्हें जनता का विश्वास है जीतना

आगे की स्लाइड्स में देखिए फोटोज

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story