Top

प्रियंका की एंट्री पर सुमित्रा महाजन ने कसा तंज, ‘विश्वास’ ने दिलाई पद की याद

सुमित्रा महाजन के इस बयान पर कवि और आम आदमी पार्टी नेता रहे कुमार विश्वास ने तंज कसा है। विश्वास ने ट्वीट कर लिखा, ''आदरणीया ताई ! आप लोकसभा अध्यक्ष के “संवैधानिक पद” पर हैं।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 25 Jan 2019 6:00 AM GMT

प्रियंका की एंट्री पर सुमित्रा महाजन ने कसा तंज, ‘विश्वास’ ने दिलाई पद की याद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तरफ से प्रियंका गांधी को पार्टी महासचिव बनाकर उन्हें पूर्वी उत्तर प्रदेश का इंचार्ज बनाने के एक दिन बाद लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन का इस पर बयान सामने आया है। जिसमें सुमित्रा महाजन ने कहा-“वह (प्रियंका गांधी वाड्रा) एक अच्छी महिला है और राहुल जी ने यह स्वीकार कर लिया है कि वे अकेले राजनीति नहीं कर सकते हैं और इसीलिए वे प्रियंका की मदद ले रहे हैं। यह अच्छी चीज है।”

हालांकि, सुमित्रा महाजन के इस बयान पर कवि और आम आदमी पार्टी नेता रहे कुमार विश्वास ने तंज कसा है। विश्वास ने ट्वीट कर लिखा, ''आदरणीया ताई ! आप लोकसभा अध्यक्ष के “संवैधानिक पद” पर हैं।

ये भी पढ़ें...लोकसभा में वीडियो बनाने को लेकर स्पीकर ने अनुराग ठाकुर को चेताया



राजनाथ भी दे चुके हैं बयान

आपको बता दें कि सुमित्रा महाजन से पहले केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह समेत पार्टी के अन्य नेताओं ने भी प्रियंका गांधी की एंट्री पर टिप्पणी की थी। गुरुवार को ही राजनाथ सिंह ने कहा था कि प्रियंका गांधी की राजनीति में एंट्री कांग्रेस का अंदरूनी मामला है। उन्होंने कहा था कि बीजेपी कांग्रेस को उत्तर प्रदेश में चुनौती नहीं मानती है।

वहीं इससे पहले बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा था कि प्रियंका गांधी की एंट्री से सिद्ध हो गया कि राहुल गांधी फेल हो गए हैं, इसलिए गांधी परिवार के एक और सदस्य की राजनीति में एंट्री हुई है।

ये भी पढ़ें...सुमित्रा ने टीडीपी सांसदों को दी कड़ी कार्रवाई की चेतावनी

‘बीजेपी में डर का माहौल’

गौरतलब है कि प्रियंका गांधी को राजनीति की मुख्य धारा में लाने वाले फैसले को राजनीतिक पंडित राहुल गांधी का मास्टरस्ट्रोक कह रहे हैं। खुद राहुल ने इस फैसले पर कहा था कि वह बहुत खुश हैं कि उनकी बहन उनके साथ काम करेंगी। राहुल ने कहा था कि इस फैसले से बीजेपी वाले भी घबराए हुए लग रहे हैं।

ये भी पढ़ें...जब सदन में कांग्रेस सांसदों ने उड़ाए कागज़ के प्लेन, सुमित्रा महाजन बोलीं- ?बच्चे हो या बड़े??

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story