Top

करारी हार के बाद जगे अखिलेश यादव, 2 महीने तक चलेगा सदस्यता अभियान

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 14 April 2017 2:37 PM GMT

करारी हार के बाद जगे अखिलेश यादव, 2 महीने तक चलेगा सदस्यता अभियान
X
सपा नेता ने अखिलेश से पूछा- प्रदेश अध्यक्ष पद का हूं दावेदार, बताएं कैसे करूं आवेदन?
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद समाजवादी पार्टी के सदस्यता अभियान की शुरूआत शनिवार से पार्टी मुख्यालय में 12ः00 बजे से होगी। इसमें समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव भी शामिल होंगे। सदस्यता अभियान 15 अप्रैल 2017 से शुरू होकर 15 जून 2017 तक चलेगा। नई व्यवस्था के मुताबिक पार्टी के सक्रिय सदस्य ही संगठन में पदाधिकारी बन सकेंगे।

पार्टी प्रवक्ता राजेंद्र चोधरी ने बताया है कि पार्टी संविधान में संशोधन के फलस्वरूप अब सदस्यों का कार्यकाल 3 वर्ष के स्थान पर 5 वर्ष होगा। प्रारम्भिक और सक्रिय बनाने के अभियान को मतदान केन्द्र तक पहुंचाने का प्रयास होगा। इसके लिए ग्राम सभा, न्याय पंचायत, विकास खंड एवं वार्ड स्तर पर सदस्यता शिविरों का आयोजन होगा।

सपा के सदस्य बनने हेतु आन लाइन तथा मिस काल देकर भी व्यवस्था की गई है। सदस्यता हेतु 78599-99999 नम्बर पर मिस काल दी जा सकती है। जबकि आन लाइन www.samajwadiparty.in/join का उपयोग किया जा सकता है।

पिछली बार समाजवादी पार्टी का सदस्यता अभियान 1 जुलाई 2014 से 30 सितम्बर 2014 तक चलाया जिसमें 1,44,000 (एक लाख चैवालिस हजार) सक्रिय सदस्य बने थे। इन सबकी अवधि 30 जून 2017 को समाप्त हो रही है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story