Top

सिद्धू के मामवे में चुुप्पी साध गई कैप्टन की कैबिनेट नहीं उठा मुद्दा!

सिद्धू का मुद्दा सोमवार को होने वाली राज्य कैबिनेट की बैठक में उठ सकता है। उधर, इस मसले पर सिद्धू का कहना है कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं कहा है।'

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 3 Dec 2018 4:36 AM GMT

सिद्धू के मामवे में चुुप्पी साध गई कैप्टन की कैबिनेट नहीं उठा मुद्दा!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

चंडीगढ़: पंजाब कैबिनेट की आज की बैठक में सिद्धू के 'कौन है कैप्टन'' बयान का मुद्दा नहीं उठा। आलाकमान के सख्त निर्देश के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह और पंजाब सरकार के मंत्रियों ने सिद्धू के मामले पर चुप्पी साध ली। कैबिनेट मीटिंग में सिर्फ रूटीन मुद्दे ही डिस्कस किए गए। इससे पूर्व राहुल गांधी को अपना कैप्टन बताने के मामले के तूल पकड़ लेने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग तेज हो गई थी। नौबत यहां तक आ पहुंची थी कि पंजाब के कई मंत्रियों ने सिद्धू को सीएम से माफी मांगने की मांग कर डाली थी।

कहा जा रहा था कि सिद्धू का मुद्दा सोमवार को होने वाली राज्य कैबिनेट की बैठक में उठ सकता है। उधर, इस मसले पर सिद्धू का कहना है कि 'उन्होंने कुछ भी गलत नहीं कहा है।'

राजस्थान में चुनाव प्रचार कर रहे सिद्धू ने कहा, 'मैं ऐसे स्थान पर रहता हूं जहां दिमाग बिना भय के रहता है और सिर ऊंचा रहता है।' इससे पहले शुक्रवार को सिद्धू से पूछा गया था कि क्या करतापुर कॉरिडोर के शिलान्यास समारोह में पाकिस्तान जाने से उन्हें सीएम ने रोका था ?

ये भी पढ़ें...पाकिस्तान के पीएम इमरान ने रखी करतारपुर कारिडोर की नींव, सिद्धू भी रहे मौजूद

इस पर सिद्धू ने कहा, 'किस कैप्टन की बात कर रहे हो? ओह! कैप्टन अमरिंदर सिंह। वह सेना में एक कैप्टन थे, मेरे कैप्टन राहुल गांधी हैं। उनके (सीएम के) कैप्टन भी राहुल गांधी हैं।' इसके बाद शनिवार को पंजाब के मंत्री तृप्त रजिंदर सिंह बाजवा ने सिद्धू से कहा कि वह या तो इस्तीफा दें या माफी मांगें। इस बीच खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह ने कहा, 'मेरे कैबिनेट के ज्यादातर साथी चाहेंगे कि इस मुद्दे पर सोमवार को होने वाली कैबिनेट की बैठक में चर्चा हो। विशेषकर इसलिए कि इसने लोकसभा चुनाव से पहले पार्टी को कमजोर किया है।'

राज्य के एक अन्य मंत्री ने कहा, 'अमरिंदर सिंह के ज्यादातर वफादार मंत्री इस मुद्दे को कैबिनेट में उठाने के लिए उत्सुक हैं।' रविवार को पंजाब सरकार में मंत्री साधु सिंह ने भी कहा था, 'मैं यह सुनकर थोड़ा नाराज हूं (नवजोत सिंह सिद्धू का बयान), बिल्कुल राहुल गांधी हमारे इंडियन कैप्टन हैं लेकिन सिद्धू यह भूल गए कि अमरिंदरजी हमारे सीएम हैं। उन्हें सम्मान करना चाहिए, यह कपिल शर्मा का शो नहीं है।'

ये भी पढ़ें...नवजोत सिंह सिद्धू का ‘नापाक’ बयान, पाकिस्तान की तारीफ में कही ये बड़ी बात

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story