Top

बढ़ रहा है चाचा शिवपाल का कुनबा, अखिलेश के लिए खतरे की घंटी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 11 Nov 2018 9:51 AM GMT

बढ़ रहा है चाचा शिवपाल का कुनबा, अखिलेश के लिए खतरे की घंटी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : रिटायर्ड डीआईजी वजीह अहमद ने शिवपाल यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया का दामन थाम लिया है। अहमद इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्र संघ में भी रहे हैं।

यह भी पढ़ें: घोटालेबाज रेड्डी गिरफ्तार : बीजेपी की मुश्किल बढ़ी, कांग्रेस खेमे में जश्न

सदस्यता लेते समय अहमद ने कहा, समाज के लिए काम करना चाहता हूं।

यह भी पढ़ें: यूपीटीईटी: परीक्षा से पहले जान लें ये जरूरी बातें नहीं हो जायेंगे एग्जाम से बाहर

प्रासपा प्रवक्ता एहसान क़ुरैशी ने इस मौके पर कहा, जानबूझ कर संवेदनशील जिलों में वजीह अहमद को अखिलेश यादव ने नही बनाया पुलिस कप्तान।

यह भी पढ़ें: सपा नेता रामगोविंद चौधरी को हार्टअटैक, मेदांता रेफर

उन्होंने कहा वजीह अहमद संवेदनशील जिलों में कप्तान होते तो दंगे नहीं होते। जबकि अखिलेश यादव चाहते थे कि दंगे हों और उस का फायदा मिले।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story