Facebook कैमरे से अलर्ट: डेटा चुराने का आरोप, फोन से यूजर की जासूसी

फेसबुक के ऊपर इंस्टाग्राम यूजर्स की कथित रूप से जासूसी करने की बात सामने आई है। फेसबुक पर आरोप है कि इसके लिए उसने फोन कैमरे का इस्तेमाल किया है।

FACEBOOK

फेसबुक फोन के कैमरे से कर रहा इंस्टाग्राम यूजर की पर्सनल जासूसी (File Photo)

नई दिल्ली: फेसबुक और डाटा लीक का रिश्ता काफी पुराना है। अब नया मामला बीती रात का है। दरअसल फेसबुक और इंस्टाग्राम का सर्वर डाउन होने की वजह से दुनियाभर के कई यूजर्स इन प्लेटफार्म पर Login नहीं कर पाए। इस बात से नाराज यूजर्स ने ट्विटर पर जमकर भड़ास भी निकाली थी।

ये भी पढ़ें: लॉन्च हुई Kia Sonet: कीमत मात्र 6.71 लाख रुपये से शुरू, जानें कीमत और फीचर्स

लेकिन इसी बीच एक और बड़ी खबर सामने आयी है। बता दें कि फेसबुक के ऊपर इंस्टाग्राम यूजर्स की कथित रूप से जासूसी करने की बात सामने आई है। फेसबुक पर आरोप है कि इसके लिए उसने फोन कैमरे का इस्तेमाल किया है। इसे लेकर फेसबुक के खिलाफ एक मुकदमा भी दर्ज हुआ है, जिसमें कहा गया है कि फेसबुक ने डाटा के लिए इंस्टाग्राम यूजर्स के कैमरे का इस्तेमाल किया है।

मिली जानकारी के अनुसार आईफोन यूजर्स जब फोटो शेयरिंग ऐप इंस्टाग्राम पर एक्टिव नहीं थे तब भी उनके फोन के कैमरा का एक्सेस होता दिखाई दिया था। हालांकि, फेसबुक ने इन तमाम बातों का खंडन किया है। फेसबुक के मुताबिक, यह सब एक बग की वजह से हुआ है।

ये भी पढ़ें: मोदी का किसानों को संदेश: बोले कुछ लोग कर रहे भ्रमित, कृषि बिल है रक्षा कवच

यहां दायर हुआ मुकदमा

जानकारी के लिए बता दें कि सैन फ्रांसिस्को के फेडरल कोर्ट में गुरुवार को न्यू जर्सी की एक इंस्टाग्राम यूजर ने शिकायत करते हुए कहा कि फेसबुक यूजर्स के कैमरे का इस्तेमाल जानबूझकर अपने फायदे के लिए करता है, ताकि उसे यूजर्स का जरूरी डाटा हासिल हो सके। साथ ही फेसबुक पर यह भी आरोप है कि वह यूजर्स के निजी डाटा के लिए चुपके से एप के कैमरे के ऑन करता है।

ये भी पढ़ें: रिया पर ताबड़तोड़ छापेमारी: NCB ने सीज की 40 लाख की ड्रग, बड भी बरामद

इसके पहले भी केस हो चुका है दर्ज

गौरतलब है कि पिछले महीने ही फेसबुक के खिलाफ एक मामला दर्ज हुआ था। आरोप है कि कंपनी यूजर्स का बायोमेट्रिक डाटा लेने के लिए फेशियल रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर रही है। साथ ही ये भी आरोप है कि उसने करीब 100 मिलियन इंस्टाग्राम यूजर्स को निशाना बनाया, हालांकि फेसबुक ने इस आरोप को भी यह कहते हुए खारिज कर दिया कि वह इंस्टाग्राम प्लेटफॉर्म पर फेस रिकॉग्निशन का इस्तेमाल नहीं करती है।

ये भी पढ़ें: जारी हुई नई गाडइलाइन: संक्रमित उम्मीदवारों को देना होगा ध्यान, पढ़ें ये जरूरी बातें

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App