कैसे आहूत होगा 20 अगस्त से यूपी विधानसभा का सत्र

यूपी विधानसभा का मानसून सत्र अगले महीने की 20 तारीख से आहूत किया जाएगा। इस दौरान राज्य सरकार अपने वैधानिक कार्यो को पूरा करने का काम करेगी।

श्रीधर अग्निहोत्री

लखनऊ: यूपी विधानसभा का मानसून सत्र अगले महीने की 20 तारीख से आहूत किया जाएगा। इस दौरान राज्य सरकार अपने वैधानिक कार्यो को पूरा करने का काम करेगी। माना जा रहा है कि मानसून सत्र के दौरान राज्य सरकार अनुपूरक बजट भी ला सकती है। अगले महीने 20 अगस्त से आहूत होने वाले मानसून सत्र को लेकर राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल ने आज अधिसूचना जारी कर दी।

ये भी पढ़ें: प्राधिकरण का रिपोर्ट कार्ड: एक साल में किए इतने कार्य, जानिए क्या-क्या हुआ शहर में

विधायकों को कैसे आसन पर विराजमान किया जाएगा?

अब सवाल इस बात का है कि 403 विधायकों वाली देश की सबसे बड़ी यूपी विधानसभा के सत्र में विधायकों को कैसे आसन पर विराजमान किया जाएगा। सत्र के दौरान कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए विधायक शून्यकाल, ध्यानाकर्षण, अशासकीय संकल्प की सूचनाएं भी ई मेल से भेजी जा सकती है। पर सत्र के दौरान विधानसभा की बैठक व्यवस्था को सोशल डिस्टेंस के साथ कैसे पालन कराया जाएगा यह बेहद चुनौतीपूर्ण कार्य होगा। विधायकों के बैठने के लिए विधानसभा सचिवालय क्या करता है। अभी यह स्थिति भी साफ नहीं हो पाई है।

ये भी पढ़ें: प्रधानमंत्री मोदी ने की 50 टॉप नौकरशाहों से बात, वजह जान हैरान रह जाएंगे

पत्रकारों को कहां बैठाना होगा?

यहीं नहीं, सत्र के दौरान हर विधायक के क्षेत्र से लोग उनके साथ विधानभवन आते हैं। साथ ही मीडिया कवरेज के लिए पत्रकारों को कहां बैठाना होगा। इन सबकी व्यवस्था करना विधानसभा सचिवालय के लिए एक बड़ी चुनौती होगी।

ये भी पढ़ें: अमेरिका-फ्रांस के लिए ”एयर बबल्स” फ्लाइट्स को मंजूरी, जानिए इसके बारे में

कई मंत्री और विधायक हो चुके हैं संक्रमित

यहां यह बताना जरूरी है कि कोरोना के यूपी में आने के बाद से अबतक कई मंत्री तथा विधायक इसके शिकार हो चुके हैं। इनमें राजेन्द्र सिंह उर्फ मोती सिंह से लेकर चेतन चैहान तक शामिल हैं। यहीं नहीं विधानसभा सचिवालय स्टाफ के कई कई कर्मचारी भी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। जिसे लेकर विधानसभा के अधिकारी लगातार मंथन करने में जुटे हुए हैं।

ये भी पढ़ें: चीन को एक और तगड़ा झटका: मोदी सरकार ने अब लिया ये बड़ा फैसला

इसके पहले यूपी विधानसभा का सत्र फरवरी में आहूत किया गया था। जिसमें योगी सरकार ने सामान्य बजट प्रस्तुत किया था। यह सत्र 13 फरवरी को राज्यपाल आनन्दीबेन पटेल के अभिभाषण के साथ ही 28 फरवरी को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गया था।

ये भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री का बड़ा बयान, कहा- एयर इंडिया पर कही ऐसी बात, देश में मचेगा बवाल

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App