Top

फुटबॉल खिलाड़ियों के विकास के लिए अर्जेंटीना और चीन ने मिलाया हाथ

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 18 May 2017 11:15 AM GMT

फुटबॉल खिलाड़ियों के विकास के लिए अर्जेंटीना और चीन ने मिलाया हाथ
X
फीफा अंडर-17 विश्व कप: मोरेनो, गोमेज, मार्टिनेज कोलंबिया टीम में स्थान नहीं बना पाए
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

ब्यूनस आयर्स: अर्जेंटीना के खेल मंत्री कार्लोस मैक एलिस्टर ने बीजिंग में बताया कि उनके देश और चीन ने फुटबाल जगत के विकास के लिए साथ मिलकर काम करने पर सहमति जताई है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, वर्तमान में एलिस्टर अर्जेटीना के राष्ट्रपति मैरिसियो मैक्री के साथ चीन दौरे पर हैं।

एलिस्टर ने बताया कि दोनों देशों ने फुटबाल जगत के विकास के संबंध में साझेदारी के कार्यक्रमों पर सहमति जताई है। एक बयान में एलिस्टर ने कहा, "हम एक साल के लिए चीन के 150 युवा खिलाड़ियों को अर्जेंटीना लाएंगे। इसके साथ ही चीन से कई कोच और फिजिकल थेरेपिस्ट भी आएंगे।" इसके अलावा, अर्जेंटीना 500 कोच और फिजिकल ट्रेनर चीन भेजेगा, जो चीन में फुटबॉल क्लिीनिक का संचालन करेंगे।

अर्जेंटीना के रेडियो चैनल 'ला रेड' को दिए बयान में एलिस्टर ने कहा कि चीन को अब भी निचले स्तर पर युवा खिलाड़ियों के लिए फुटबाल का विकास करना है और इसमें सुधार के लिए अर्जेंटीना उसका साथ देने के लिए तैयार है। खेल मंत्री ने यह भी कहा कि इस परियोजना को अर्जेटीना फुटबाल संघ (एएफए) के अध्यक्ष क्लॉडियो थापिया की ओर से स्वीकृति मिल गई है।

एएफए इस बात का भी आंकलन कर रहा है कि अर्जेंटीना की राष्ट्रीय टीम चीन में कुछ मैच खेल सकती है। पूर्व डिफेंडर एलिस्टर ने कहा, "हमने एएफए के नए अध्यक्ष से बात की है और हमें इस मामले में समर्थन मिला है।" एलिस्टर ने अपने करियर के दौरान 1993 में अर्जेंटीना की राष्ट्रीय टीम के लिए तीन मैच खेले और 1990 के दशक में बोका जूनियर्स का प्रतिनिधित्व किया।

सौजन्य-आईएएनएस

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story