Top

चौथे वनडे में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 5 विकेट से हराया

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच वांडर्स स्टेडियम में बारिश और खराब मौसम से बाधित चौथे वनडे मैच में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को पांच विकेट से हराया। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका को 50 ओवर में 290 रनों को लक्ष्य दिया। जवाब में दक्षिण अफ्रीका के सलामी बल्लेबाजों ने अच्छी शुरुआत की और पहले विकेट के लिए 7.2 ओवरों में 43 रन जोड़े।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 11 Feb 2018 8:30 AM GMT

चौथे वनडे में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 5 विकेट से हराया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जोहान्सबर्ग: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच वांडर्स स्टेडियम में बारिश और खराब मौसम से बाधित चौथे वनडे मैच में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को पांच विकेट से हराया। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका को 50 ओवर में 290 रनों को लक्ष्य दिया। जवाब में दक्षिण अफ्रीका के सलामी बल्लेबाजों ने अच्छी शुरुआत की और पहले विकेट के लिए 7.2 ओवरों में 43 रन जोड़े।

मेजबान टीम ने कप्तान एडिन मार्कराम (22) के रूप में अपना पहला विकेट खोया। उन्हें तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने आउट किया।

मर्कराम के आउट होने के तुरंत बाद खराब मौसम के कारण खेल रोका गया और उसके थोड़ी देर बाद बारिश ने दस्तक दी। शनिवार को हुए दिन-रात के वनडे मैच में बारिश के कारण दक्षिण अफ्रीका को डकवर्थ लुईस नियम के तहत 28 ओवरों में 202 रनों का संशोधित लक्ष्य दिया गया।

बारिश खत्म होने के बाद मैच दोबारा शुरू हुआ और दक्षिण अफ्रीका ने 43 रन के कुल योग से आगे खेलना शुरू किया। मेजबान टीम के स्कोर में अभी 24 रन ही जुड़े थे कि ज्यां पॉल ड्यूमिनी को स्पिन गेंदबाज कुलदीप यादव ने 10 के निजी स्कोर पर आउट करके दक्षिण अफ्रीका को दूसरा झटका दिया।

सलामी बल्लेबाज हाशिम आमला (33) भी इसके बाद ज्यादा देर क्रीज पर टिक नहीं पाए। उन्हें भी मेजबान टीम के लिए घातक दिख रहे कुलदीप यादव ने पवेलियन भेजा।

अब्राहम डिविलियर्स और डेविड मिलर के बीच चौथे विकेट के लिए 25 रनों की साझेदारी हुई। हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या ने डिविलियर्स को 26 के निजी स्कोर पर आउट करके इस साझेदारी को तोड़ा।

भारतीय गेंदबाजों ने मेजबान टीम के बल्लेबाजों पर लगातार दवाब बनाए रखा जिसका असर डेविड मिलर की बल्लेबाजी पर साफ नजर आया। उन्हें एक जीवनदान भी मिला जब लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने उन्हें बोल्ड किया, लेकिन अंपायर ने उस गेंद को नो बॉल करार दिया।

इस जीवनदान का मिलर ने भरपूर लाभा उठाया और पांचवे विकेट के लिए विकेटकीपर-बल्लेबाज हेइनरिक क्लासेन के साथ 72 रनों की साझेदारी की। मिलर ने दो छक्कों और चार चौकों की मदद सो 28 गेंदों मे 39 रन बनाए। मिलर का विकेट युजवेंद्र चहल को मिला।

मिलर के पवेलियन लौटने के बाद बल्लेबाजी करने आए हरफनमौला खिलाड़ी आंदिले फेहुलकवायो ने धुआंधार बल्लेबाजी करते हुए तीन छक्कों और एक चौके की मदद से पांच गेंदों पर 23 बनाए और दक्षिण अफ्रीका को छह मैचों की वनडे सीरीज की पहली जीत दिलाई।

फेहुलकवायो के साथ विकेटकीपर-बल्लेबाज क्लासेन भी नाबाद पेवलियन लौटें। क्लासेन ने 27 गेंदों में 43 रनों का योगदान दिया।

भारत के लिए कुलदीप यादव ने छह ओवरों में 51 रन देकर दो विकेट लिए।

इससे पहले, भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (109) के रिकॉर्ड शतक और कप्तान विराट कोहली (75) की बेहतरीन पारी की बदौलत 50 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 289 रन बनाए।

भारत के विकेटकीपर-बल्लेबाज महेंद्र सिंह धौनी ने भी 42 रनों का महत्वपूर्ण योगदान दिया।

दक्षिण अफ्रीका की ओर से कागिसो रबादा और लुंगी नगिड़ी ने दो-दो जबकि मोर्ने मोर्केल और क्रिस मौरिस ने एक-एक विकेट हासिल किया।

हेइनरिक क्लासेन को मैन ऑफ द मैच चुना गया। भारत छह मैचों की वनडे सीरीज में 3-1 से आगे चल रही है।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story