Top

कोलकाता टेस्ट: दूसरे दिन का खेल खत्म, हैट्रिक से चूके भुवनेश्वर, न्यूजीलैंड का स्कोर 128/7

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 1 Oct 2016 8:11 AM GMT

कोलकाता टेस्ट: दूसरे दिन का खेल खत्म, हैट्रिक से चूके भुवनेश्वर, न्यूजीलैंड का स्कोर 128/7
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कोलकाता: टीम इंडिया और न्यूजीलैंड के बीच ईडन गार्ड्न्स में खेले जा रहे सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक कीवी टीम ने पहली पारी में सात विकेट खोकर 128 रन बना लिए हैं। बारिश की वजह से कुछ देर के लिए खेल रुका था। इससे पहले टीम इंडिया 316 रन बनाकर पहली पारी में ऑल आउट हुई थी। न्यूजीलैंड की तरफ से मैट हेनरी ने सबसे अधिक 3 विकेट लिए। उनके अलावा ट्रेंट बोल्ट, वैग्नर और जीतन पटेल ने 2-2 विकेट लिए।

टीम इंडिया की पहली पारी में तीन बल्लेबाजों ने हाफ सेंचुरी लगाई थी। पुजारा ने जहां 87 रन बनाए तो वहीं रहाणे ने 11 11 चौकों की मदद से 77 रन अपने खाते में जोड़े। विकेटकी रिद्धिमान साहा ने नॉट आउट 54 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 7 चौके और 2 छक्के लगाए।

शिखर धवन रहे फ्लॉप

टीम इंडिया में चोटिल लोकेश राहुल की जगह शिखर धवन को मौका दिया गया था, लेकिन खराब फॉर्म से जूझ रहे धवन कोलकाता टेस्ट की पहली पारी में भी कोई कमाल नहीं दिखा सके। धवन 10 गेंदों में एक रन बनाकर हेनरी की गेंद पर बोल्ड हो गए। सोशल मीडिया पर फैंस ने भी उन पर काफी गुस्सा निकाला और कहा कि उनकी जगह दो साल बाद टीम में वापसी करने वाले गौतम गंभीर को मौका दिया जाना चाहिए था।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story