Top

विश्व कप में हर बार भारत ने पाकिस्तान को हराया, जानें कब-कब हुई भिड़ंत

भारत और पाकिस्तान के बीच के मुकाबला का प्रशंसकों को इंताजर रहता। पिछले कई वर्षों से दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सीरीज बंद है, लेकिन अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में दोनों टीमों की कई बार भिड़ंत हो चुकी है। द्विपक्षीय सीरीज में भले ही पाकिस्तान ने अधिक जीत दर्ज की हो, लेकिन विश्व कप में वह अभी तक भारत को मात नहीं दे पाया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 15 Jun 2019 1:38 PM GMT

विश्व कप में हर बार भारत ने पाकिस्तान को हराया, जानें कब-कब हुई भिड़ंत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: भारत और पाकिस्तान के बीच के मुकाबला का प्रशंसकों को इंताजर रहता। पिछले कई वर्षों से दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सीरीज बंद है, लेकिन अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में दोनों टीमों की कई बार भिड़ंत हो चुकी है। द्विपक्षीय सीरीज में भले ही पाकिस्तान ने अधिक जीत दर्ज की हो, लेकिन विश्व कप में वह अभी तक भारत को मात नहीं दे पाया है। दो बार की विश्व विजेता भारतीय टीम ने अब तक विश्व कप में चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान का छह बार सामना किया है और हर बार भारत ने जीत हासिल की है।

पहली बार दोनों टीमों की भिड़ंत 1992 में हुई थी और भारत ने अपने पड़ोसी के खिलाफ जीत का जो सिलसिला शुरू किया था, वह आज तक कायम है। भारतीय फैंस चाहेंगे कि यह आगे भी कायम रहे।

इस संस्करण में पाकिस्तान का प्रदर्शन दमदार रहा और पहली बार खिताब अपने नाम किया, लेकिन उससे पहले भारत के खिलाफ उसे 43 रनों से हार झेलनी पड़ी थी। सिडनी में हुए मैच में टॉस जीतकर भारत ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और सचिन तेंदुलकर के नाबाद 54 रनों की मदद से सात विकेट के नुकसान पर 216 रन बनाए।

यह भी पढ़ें...पाकिस्तान: मंत्री कर रहे थे प्रेस कांफ्रेस, फेसबुक लाइव पर बन गए बिल्ली

जवाब में पाकिस्तान की टीम 173 रनों पर ही पवेलियन लौट गई। पाकिस्तान की ओर से आमिर सोहेल ने 62 रन बनाए थे। भारत की ओर से कपिल देव, मनोज प्रभाकर और जवागल श्रीनाथ ने दो-दो विकेट लिए थे। तेंदुलकर को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

इस बार भारत और पाकिस्तान की टीमें बेंगलुरु में टूर्नामेंट के क्वॉर्टर फाइनल में भिड़ीं। इस बार भी भारतीय टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी की और सलामी बल्लेबाज नवजोत सिंह सिद्धू के 93 रनों की बदौलत 287 रन बनाए। पाकिस्तान की शुरुआत बेहतरीन रही, लेकिन अनिल कुंबले (3 विकेट) और वेंकटेश प्रसाद (3 विकेट) की गेंदबाजी के आगे पूरी टीम 248 रनों पर पविलियन लौट गई और 39 रनों से मुकाबला हार गई। सिद्धू 'मैन ऑफ द मैच' रहे।

यह भी पढ़ें...लखनऊ में दर्दनाक हादसा, सीवर की सफाई करते समय दो मजदूरों की मौत

भारत का प्रदर्शन इस संस्करण में भले ही निराशाजनक रहा हो, लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ उसने एक बार फिर दमदार प्रदर्शन किया और 47 रनों से जीत दर्ज की। भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी की और छह विकट खोकर 227 रन बनाए।

राहुल द्रविड़ ने टीम की ओर से सबसे अधिक 61 रन बनाए। जवाब में पाकिस्तान की पूरी टीम महज 180 रन ही बना पाई। पाकिस्तानी टीम के इंजमाम उल हक ने 41 रन बनाए। मैन ऑफ द मैच वेंकटेश प्रसाद ने धमाकेदार प्रदर्शन करते हुए पांच विकेट लिए।

यह भी पढ़ें...बनारसी साड़ी पहने पहली बार नजर आयीं लीजा रे की जुड़वा बेटियां, देखें ये क्यूट तस्वीरें

सौरभ गांगुली की कप्तानी में भारतीय टीम इस संस्करण में फाइनल तक पहुंची थी, लेकिन ऑस्ट्रेलिया से हार गई थी। इस विश्व कप में भारत ने पाकिस्तान को भी छह विकेट से शिकस्त दी थी।

पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सईद अनवर (101) के शतक की बदौलत सात विकेट खोकर 273 रन बनाए। भारत ने पाकिस्तान के गेंदबाजों को मुंहतोड़ जवाब देते हुए 45.4 ओवर में चार विकट खोकर लक्ष्य को हासिल कर लिए। मैन ऑफ द मैच तेंदुलकर ने 98 रनों की अहम पारी खेली।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story