Top

कोहली ने वर्ल्ड कप नॉकआउट फॉर्मेट बदलने का किया समर्थन, कहा- ऐसा हो प्लेऑफ

Dharmendra kumar

By Dharmendra kumar

Published on 11 July 2019 4:54 PM GMT

कोहली ने वर्ल्ड कप नॉकआउट फॉर्मेट बदलने का किया समर्थन, कहा- ऐसा हो प्लेऑफ
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मैनचेस्टर: न्यूजीलैंड से हार के बाद भारत वर्ल्ड कप की रेस से बाहर हो गया है। प्रबल दावेदार टीमों ने सेमीफाइनल में जगह बनाई, लेकिन मैच के दिन खराब प्रदर्शन से भारत की विश्व कप उम्मीद टूट गई। कप्तान विराट कोहली ने आईसीसी को भविष्य में नॉकआउट चरण में आईपीएल शैली का प्लेऑफ लाने का सुझाव दिया।

यह भी पढ़ें...कर्नाटक: विधायकों से मुलाकात कर बोले स्पीकर, संविधान के मुताबिक करूंगा फैसला

कोहली ने स्वीकार किया कि भारत ने 240 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पहले 45 मिनट में ही मैच गंवा दिया था, जिससे करोड़ों दर्शकों की उम्मीदें टूट गई थीं जबकि टीम लीग चरण में शीर्ष पर रही थी। यह पूछने पर कि क्या भविष्य में आईपीएल की शैली का प्लेऑफ विकल्प होना चाहिए तो कोहली ने कहा, ‘कौन जानता है कि भविष्य में शायद ऐसा हो जाए। अगर तालिका में शीर्ष पर रहना मायने रखता है तो मुझे लगता है कि टूर्नमेंट के स्तर को देखते हुए इन चीजों पर विचार किया जा सकता है।’

यह भी पढ़ें...कर्नाटक: विधायकों से मुलाकात कर बोले स्पीकर, संविधान के मुताबिक करूंगा फैसला

उन्होंने कहा, ‘यह सचमुच उचित बात है। आप नहीं जानते कि कब यह लागू हो जाए।’ भारतीय कप्तान ने हालांकि स्वीकार किया कि सेमीफाइनल प्रारूप का अपना ही मजा है क्योंकि इससे टूर्नामेंट में टीम का पिछला प्रदर्शन मायने नहीं रहता।

उन्होंने कहा, ‘लेकिन मुझे लगता है कि यह चुनौती है और इन मैचों का अपना ही अलग तरह का मजा है क्योंकि आपका उसी दिन का खेल मायने रखता है। आप इससे पहले कैसा खेले हो यह मायने नहीं रखता। नया दिन होता है, नई शुरूआत और अगर आप अच्छा नहीं करते तो आप घर जाओ।’

यह भी पढ़ें...दिल्ली: कांग्रेस के 10 पूर्व विधायक आज सावंत संग अमित शाह से करेंगे मुलाकात

उन्होंने कहा, ‘इसलिए आपको स्वीकार करना होता है। सभी टीमों के पास अलग तरह की चुनौती होती है और उन्हें अपने खेल में शीर्ष पर होना चाहिए और जो भी ऐसा करता है उसके हक में नतीजा होता है, जैसा कि आज आपने देखा।’

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story