Top

उभरता सितारा: लक्ष्य सेन बने जूनियर बैडमिंटन में दुनिया के नंबर 1 खिलाड़ी

aman

amanBy aman

Published on 2 Feb 2017 3:19 PM GMT

उभरता सितारा: लक्ष्य सेन बने जूनियर बैडमिंटन में दुनिया के नंबर 1 खिलाड़ी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: उत्तराखंड के लक्ष्य सेन (15 वर्षीय) जूनियर बैडमिंटन के पुरुष एकल वर्ग में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ शटलर बन गए हैं। बीएफए की ओर से जारी जूनियर बैडमिंटन वर्ल्ड रैंकिंग में टॉप 10 खिलाड़ियों में लक्ष्य एकमात्र भारतीय हैं।

-जानकारी के अनुसार, लक्ष्य सेन ने आठ टूर्नामेंट खेलकर 16,903 अंक हासिल किए हैं।

-उनसे एक पायदान नीचे चीनी ताइपे के खिलाड़ी चिया हाओ ली हैं। ली के कुल 16,091 अंक हैं।

-लक्ष्य 10 साल की उम्र से प्रकाश पादुकोण बैडमिंटन अकैडमी में अपनी प्रतिभा को निखार रहे हैं।

-बता दें कि इस लक्ष्य की प्रतिभा को देखकर कोच प्रकाश पादुकोण खुद उनकी खास ट्रेनिंग का ध्यान रखते हैं।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story