Sports

सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है। क्रिकेट के इतिहास में सचिन का बहुत बड़ा नाम है। सचिन की इस सफलता के पीछे उनकी कड़ी मेहनत और भारतीय क्रिकेट में उनका योगदना है। उन्होंने सालों तक कड़ी मेहनत की।

नई दिल्ली: वैसे तो इंडियन क्रिकेट टीम के कैप्टन विराट कोहली और पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने भले ही बहुत नाम कमाया हो लेकिन अब भारत के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी ने दोनों लोंगों को एक मामले में पीछे कर दिया है। हाल ही में हुए एक ताजा सर्वे के अनुसार …

भारतीय कप्तान विराट कोहली फिट रहने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं। साथ ही इसके लिए वह खान पीने का भी खास ख्याल रखते हैं। बीते कुछ सालों में टीम इंडिया के कप्तान ने अपने लिए कई कड़े पैमाने और ट्रेनिंग के बल पर बेहतरीन फिटनेस गोल हासिल किये हैं।

वनडे और टी-20 इंटरनेशनल मैचों की सीरीज के लिए पाकिस्तान पहुंची श्रीलंका की टीम को हवाई अड्डे से ही राष्ट्राध्यक्षों के स्तर की सुरक्षा दी गई है। श्रीलंकाई टीम यहां सुरक्षा विशेषज्ञों का प्रतिनिधिमंडल के पहुंचने के कुछ घंटे बाद पहुंची।

आईसीसी ने बीसीबी के क्रिकेट संचालन के अध्यक्ष अकरम खान के हवाले से बताया कि भविष्य के दौरा कार्यक्रम के मुताबिक फरवरी में दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला खेली जाना था, लेकिन अब इस श्रृंखला का आयोजन जून-जुलाई 2020 में होगा।

फुटबॉल की दुनिया के भगवान् माने जाने वाले लियोनेल मेसी को छठी बार फीफा 'प्लेयर ऑफ़ द ईयर' के ख़िताब से सम्मानित किया गया है। और महिला खिलाड़ियों में पहली बार फीफा 'वूमेन ऑफ द ईयर' की ट्रॉफी मेगन रपिनो ने जीता।

भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार बल्लेबाज और कप्तान विराट कोहली को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से बड़ा झटका लगा है। आईसीसी ने विराट कोहली को साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टी-20 मैच के दौरान मैदान पर दुर्व्यवहार के लिए चेतावनी दी है।

भारत के युवा विकेटकीपर और बल्लेबाज ऋषभ पंत के दिन अच्छे नहीं चल रहे हैं। वह काफी समय से बेहद खराब फॉर्म में हैं। ऋषभ पंत ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ बेंगलुरु में खेले गए तीसरे टी-20 मैच में 19 रन बनाकर आउट हो गए, तो मोहाली में दूसरे टी-20 मैच में पंत सिर्फ 4 रन बनाकर पवेलियन लौट गए।

भारतीय टीम के ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टी20 मैच में एक नई उपलब्धि हासिल की है। पहली पारी में प्रोटियाज के खिलाफ चार रन बनाते ही उन्होंने टी 20 क्रिकेट में अपने 7000 रन पूरे कर लिए। 

पूर्व भारतीय टेस्ट क्रिकेटर माधव आप्टे का सोमवार की सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह 86 वर्ष के थे। आने वाली 5 अक्टूबर को माधव आप्टे का जन्मदिन था लेकिन अपने जन्मदिन के पहले ही सबसे विदा ले लिया। उनके हृदय की गति रुकने के बाद उन्हें मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था।