Sports

2018 एशिया कप में धोनी के खराब बल्लेबाजी प्रदर्शन के बाद, उन्हें वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 3 टी20 इंटरनेशनल मैचों के लिए भारत आई टी20 टीम से बाहर कर दिया गया।

विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में राष्ट्रीय चैंपियन दुर्योधन सिंह नेगी ने जीत के साथ शुरुआत की। लेकिन दूसरे दौरे में उन्हें हार का सामना करना पड़ा और इसके साथ ही नेगी विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप से बाहर हो गए।

कप्तान कोहली की नाबाद अर्धशतकीय पारी की बदौलत टी-20 अंतर्राष्ट्रीय में उनका बल्लेबाजी एवरेज 50 के पार चला गया, अर्थात अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में इस समय उनकी औसत 50 से ज्यादा की हो गई है।

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा विकेटकीपर और बल्लेबाज रिषभ पंत साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेले गए सीरीज के दूसरे टी20 में भी कोई करिश्मा नहीं दिखा पाए। चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए पंत महज चार रन बनाकर आउट हो गए।

युवराज सिंह को 2011 क्रिकेट वर्ल्ड कप में अहम भूमिका निभाने के लिए ‘मैन ऑफ़ द टूर्नामेंट’ चुना गया। इंडियन प्रीमियर लीग में किंग्स इलेवन पंजाब, पुने वॉरियर्स इंडिया, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, दिल्ली डेयरडेविल्स की और से खेल चुके हैं।

गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने साउथ अफ्रीका को दूसरे टी20 इंटरनेशनल मैच में बुधवार को 7 विकेट से मात दी। कप्तान विराट कोहली के 72 रनों के साथ नाबाद रहे। भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों टी 20 सीरीज खेली जा रही है। सीरीज का पहला मैच धर्मशाला में बारिश रद्द हो गया था। अब सीरीज का दूसरा टी20 मैच मोहाली में खेला जाना है।

वनडे क्रिकेट में 500 विकेट लेना किसी भी तेज गेंदबाज के लिए चुनौती से कम नहीं है। ऐसा करानामा सिर्फ पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज वसीम अकरम और श्रीलंका के पूर्व स्पिनर मुथैया मुरलीधरन ही कर पाए हैं। इन दोनों खिलाड़ियों के नाम वनडे क्रिकेट में अबतक 500 विकेट लेने का रिकाॅर्ड है।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच रविवार को एचपीसीए स्टेडियम में खेले जाने वाला पहला टी-20 मैच बारिश के कारण रद्द हो गया जिसके बाद क्रिकेट फैंस के लिए एक राहत की खबर है।

इंग्लैंड ने लंदन के द ओवल मैदान पर खेले गए एशेज सीरीज के पांचवें और अंतिम टेस्ट मैच के चौथे दिन रविवार को ऑस्ट्रेलिया को 135 रनों से करारी मात दी। इग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को 399 रनों का बड़ा लक्ष्य दिया था। इसका पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलियाई टीम 77 ओवर में सभी विकेट खोकर 263 रन बना सकी।