Top

प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने का प्रयास कर रहा हूं : जेवियर

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 15 July 2017 10:48 AM GMT

प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने का प्रयास कर रहा हूं : जेवियर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुम्बई : छह टीमों वाले फाइव-ए-साइड टूर्नामेंट-प्रीमियर फुटसाल के सह-संस्थापक जेवियर ब्रीटो का कहना है कि इस टूर्नामेंट के माध्यम से वह भारत को खेलों के क्षेत्र में महाशक्ति बनाने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपने को साकार करने का प्रयास कर रहे हैं। ब्रीटो और उनकी टीम ने बीते साल प्रीमियर फुटसाल की शुरुआत की थी।

इसका पहला संस्करण काफी सफल रहा था। इसी से प्रेरित होकर आयोजकों ने प्रीमियर फुटसाल को इस साल दो की बजाय चार शहरों में आयोजित करने का फैसला किया है। इसका सेमीफाइनल और फाइनल दुबई में खेला जाएगा। इस तरह प्रीमियर फुटसाल विदेश का रुख करने वाला इंडियन प्रीमियर लीग के बाद दूसरा टूर्नामेंट बन गया है।ये भी देखें : Pro Kabaddi : विजेता टीम को मिलेंगे 3 करोड़ रुपये, 12 टीमें 138 मैच

साल 2002 में फीफा विश्व कप जीतने वाली ब्राजीली टीम के सदस्य रहे दिग्गज खिलाड़ी रोनाल्डीन्हो ने शुक्रवार को प्रीमियर फुटसाल के साथ तीन साल का करार किया। वह टूर्नामेंट के पहले संस्करण में भी खेले थे लेकिन व्यवसायिक प्रतिबद्धताओं के कारण वह बीच में टूर्नामेंट छोड़ने पर मजबूर हुए थे।

पुर्तगाल के दिग्गज फुटबाल खिलाड़ी लुइस फिगो प्रीमियर फुटसाल के अध्यक्ष हैं और उनकी देखरेख में यह टूर्नामेंट लगातार प्रगति कर रहा है। ब्रीटो मानते हैं कि उनकी टीम सही दिशा में अग्रसर है और वह वक्त दूर नहीं, जब प्रीमियर फुटसाल देश में सबसे अधिक देखा जाने वाला टूर्नामेंट बन जाएगा। साथ ही इस टूर्नामेंट के माध्यम से स्थानीय प्रतिभाओं को निखारने का काम बखूबी जारी है।ब्रीटो ने कहा, "हम सही दिशा में अग्रसर हैं। प्रीमियर फुटसाल भारत के लिए उपयुक्त खेल है। इसमें जगह कम लगती है। खिलाड़ी कम होते हैं। नियम न के बराबर हैं। कोई आफ-साइड नहीं है और एक टीम चाहें जितने भी खिलाड़ी बदल सकती है। ये बातें इस खेल को लोकप्रिय बनाने के लिए काफी हैं। और फिर रोनाल्डीन्हो जैसे दिग्गज के इससे जुड़े रहने के कारण युवाओं का रुझान इसके प्रति दोगुना हो गया है।"ब्रीटो ने आगे कहा, "हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने भारत को 2028 तक भारत को खेल की महाशक्ति बनाने का सपना देखा है और प्रीमियर फुटसाल के माध्यम से हम माननीय प्रधानमंत्री के उस सपने को साकार करने का प्रयास कर रहे हैं। हम देश में मौजूद युवा शक्ति और युवा प्रतिभा को खोजने और उसे प्रशिक्षित करने का काम साथ-साथ कर रहे हैं और मुझे यकीन है कि आने वाले समय में हमारा यह प्रयास भारतीय फुटबाल के लिए फायदेमंद साबित होगा।"प्रीमियर फुटसाल में इस साल छह फ्रेंचाइजी टीमें खेलेंगी। इसके मैच मुम्बई, दिल्ली, बेंगलुरू और दुबई में होंगे। इसकी शुरुआत 15 सितम्बर को मुम्बई मे होगी और फिर यह दिल्ली तथा फिर बेंगलुरू का रुख करेगा। अंतिम चरण की मेजबानी दुबई के हाथों में है और इसके लिए प्रीमियर फुटसाल ने दुबई स्पोर्ट्स काउंसिल के साथ करार किया है। प्रीमियर फुटसाल के मैचों का प्रसारण सोनी सिक्स चैनल पर होगा।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story