Top

पीवी सिंधु को हराकर साइना नेहवाल फिर बनीं नेशनल चैम्पियन

साइना नेहवाल ने पी वी सिंधू को सीधे गेमों में हराकर 83वीं योनेक्स सनराइज सीनियर बैडमिंटन राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में महिला एकल खिताब बरकरार रखा। तीन बार की चैम्पियन साइना ने अपने शानदार स्मैश का पूरा इस्तेमाल करते हुए दो बार की विजेता सिंधू को 21-18, 21-15 से मात दी।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 17 Feb 2019 7:13 AM GMT

पीवी सिंधु को हराकर साइना नेहवाल फिर बनीं नेशनल चैम्पियन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: साइना नेहवाल ने पी वी सिंधू को सीधे गेमों में हराकर 83वीं योनेक्स सनराइज सीनियर बैडमिंटन राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में महिला एकल खिताब बरकरार रखा। तीन बार की चैम्पियन साइना ने अपने शानदार स्मैश का पूरा इस्तेमाल करते हुए दो बार की विजेता सिंधू को 21-18, 21-15 से मात दी। पिछली बार नागपुर में खेले गए टूर्नामेंट के फाइनल में भी 2012 ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साइना ने सिंधू को हराया था। उन्होंने 2016 रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता सिंधू को गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेल के फाइनल में भी मात दी थी।

इससे पहले सौरभ वर्मा ने युवा लक्ष्य सेन को सीधे गेम में हराकर लगातार तीसरी बार सीनियर बैडमिंटन राष्ट्रीय खिताब जीत लिया। इससे पहले 2011 और 2017 में खिताब जीत चुके सौरभ ने एशियाई जूनियर चैम्पियन 17 बरस के लक्ष्य को 21-18, 21-13 से मात दी। सीनियर राष्ट्रीय फाइनल्स में यह उनका दूसरा मुकाबला था। सौरभ ने 2017 में भी जीत दर्ज की थी।

इससे पहले दूसरी वरीयता प्राप्त प्रणाव जेरी चोपड़ा और चिराग शेट्टी ने शीर्ष वरीयता प्राप्त अर्जुन एम आर और श्लोक रामचंद्रन को 21-13, 22-20 से हराकर पुरुष युगल खिताब जीता। प्रणव का यह तीसरा राष्ट्रीय खिताब है।

पुरुष एकल फाइनल में मुकाबला बराबरी का था क्योंकि दोनों खिलाड़ी काफी आक्रामक खेल रहे थे। पहले 12 अंक तक स्कोर बराबर रहा। लक्ष्य ने बाद में पांच अंक लेकर स्कोर 11-6 कर दिया। ब्रेक के बाद सौरभ ने वापसी करते हुए अंतर 11-12 का किया और फिर बढ़त बना ली। लक्ष्य के कमजोर रिटर्न का फायदा उठाकर सौरभ ने पहला गेम अपने नाम किया।

दूसरे गेम में सौरभ ने 3-0 की बढ़त बना ली लेकिन उसकी सहज गलतियों के दम पर लक्ष्य ने वापसी करके स्कोर 4-4 कर लिया। ब्रेक तक सौरभ ने फिर वापसी करके 11-7 की बढ़त बनाई जब लक्ष्य का स्मैश नेट के भीतर चला गया। सौरभ को 20-11 पर मैच प्वाइंट मिला। शटल नेट के भीतर जाने से पहले लक्ष्य ने दो मैच अंक बचाये थे।

ये भी पढ़ें...साइना ने 10 साल की दोस्ती को दिया नाम, पारुपल्ली कश्यप से की शादी

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story