‏ delhi latest news

कोरोना के नए स्ट्रेन पर काम कर रहे शोधकर्ताओं ने वायरस के जेनेटिक कोड में बदलावों की खोज की है। इसके 12 में से नौ परिवर्तनों को गंभीर माना जाता है।

दिल्ली के इस शख्स ने अपनी पत्नी से परेशान होकर अपनी अच्छी खासी नौकरी को छोड़ दिया। जिसके चलते इसने घर छोड़ कर हरियाणा के मेवात में कैब ड्राइवर बन गया। जब पत्नी ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया तो तब पति ने अपने घर वापसी कर ली।

21 नवंबर को दिल्ली में कोरोना संक्रमण से 111 मौतें दर्ज हुई हैं।दिल्ली में 6 दिनों के भीतर 100 से ज्यादा लोगों की मौतें हो चुकी हैं। इस संक्रमण की दिल्ली में राहत की कोई तस्वीर नजर नहीं आ रही हैं।

कोरोना से बचाव के लिए आज एक बैठक के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 से जंग जीतने के लिए इससे दो कदम आगे की सोच रखे जाने पर बल दिया।

सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में यह भी कहा कि इस तरह के मामले में एडमिनिस्ट्रेशन को कार्रवाई करनी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि विरोध का अधिकार संविधान में है लेकिन विरोध प्रदर्शन के लिए निर्धारित जगह होनी चाहिए।

पिछले 24 घंटों में कोरोना के 14,516 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 375 मरीजों की मौत हुई है। नए मामले सामने आने के साथ ही देश में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 3 लाख 95 हजार 048 हो गई है।

विशेषज्ञों ने यह भी कहा है कि इस विमारी से बचने के लिए अपनी इम्युनिटी क्षमता को बढ़ाना चाहिए। गौरतलब है कि दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं, जिसको देखते हुए दिल्ली में इम्यूनिटी बढ़ाने वाली दवाओं की बिक्री में बढ़ोत्तरी हुई है।

दिल्ली के अस्पतालों में मरीजों की भरमार हो रही है, अस्पतालों में बिस्तरों की कमी पड़ रही है और कोरोना का हमला काफी तेज होता चला जा रहा है।

कोरोना के कारण दिल्ली में मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। साऊथ एमसीडी के चेयरमैन भूपेंद्र गुप्ता का कहना है कि दिल्ली में मौतें इतनी ज्यादा हो रही है कि हमारे श्मशानघाट फुल हो गए हैं।

वैश्विक महामारी की चपेट में आने के कारण आम-खास सब की आय पर भारी असर पड़ा है। इसलिए धीरे-धीरे ही तो स्थितियां सामान्य होंगी।