aam admi party

आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव में अब बेहद कम वक्त बचा है। ऐसे में राजनीतिक दलों का चुनावी प्रचार चरम पर है। भाजपा दिग्गजों ने डोर-टू-डोर कैंपेन किया।

राजनीति में कुछ भी जायज है। सत्ता के लिए धुर-विरोधी पार्टियां समर्थन कर लेती हैं तो वहीं बाद अपनी-अपनी पॉवर और भूमिका को लेकर एक दूसरे से भिड़ भी जाते हैं।

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए मंगलवार से नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गयी है। इसके तहत आज सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक प्रत्याशी नामांकन दर्ज करवा सकते हैं। चुनाव नामांकन की आखिरी तारीख 21 जनवरी है।

भारतीय राजनीति के लिए साल 2020 अहम है। इस साल दो बड़े राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। दोनों ही राज्य देश की सियासत और केंद्र की सत्ता तक काबिज रहने के लिए भी बेहद अहम हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि सर्दियों में पंजाब और हरियाणा जैसे पड़ोसी राज्यों में पराली जलाई जाती है। दिल्ली में पराली जलाने से होने वाले प्रदूषण पर उनका कोई जोर नहीं है।

दिल्ली के राजस्व मंत्री कैलाश गहलौत ने बताया कि फ्री तीर्थ यात्रा के लिए कुल 5 राज्यों के तीर्थ स्थल चुने गए हैं। हर यात्रा पर एक हजार यात्री पूरा होने के बाद ही ट्रेन रवाना की जाएगी।

गौतम गंभीर ने शुक्रवार को कहा कि आम आदमी पार्टी अगर साबित कर दे कि उनकी प्रतिद्वंद्वी आप उम्मीदवार आतिशी मार्लेना के खिलाफ बांटे गये कथित अपमानजनक पर्चे से उनका लेनादेना है तो वह सार्वजनिक रूप से फांसी लगा लेंगे।

चड्ढा ने दक्षिण दिल्ली से भाजपा सांसद रमेश बिधुड़ी के ‘गुंडाराज’ के खिलाफ रविवार को रोडशो निकाला था जबकि पांच अन्य ने आज सुबह अपना नामांकन पर्चा भरने से पहले मेगा रोडशो किया।

चाको ने कहा, 'दिल्ली इकाई आप के साथ जाने को लेकर चिंता जताई थी। हालांकि राहुल गांधी ने मुझे जिम्मेदारी दी थी कि मैं अपने नेताओं और आप के साथ बातचीत करूं। संजय सिंह उधर से बात कर रहे थे।'

केजरीवाल ने कहा, ‘‘उन्होंने देश का सांप्रदायिक सद्भाव खराब कर दिया। सदियों से हम सुनते आ रहे हैं कि हिंदू मुस्लिम सिख ईसाई (आपस में हैं) भाई-भाई हैं लेकिन मोदी ने हिंदुओं को मुस्लिमों के खिलाफ करके, सब बिगाड़ दिया।’’