Actress Jaya Prada

लोकप्रिय धार्मिक शो 'रामायण' की सीता माता यानी दीपिका चिखलिया सिर्फ टीवी ही नहीं एक ज़माने में फिल्मों का भी जाना माना नाम रही हैं। एक दौर था जब...

अखिलेश आजम खान से मिलने आए उनका हक बनता है उनके पार्टी के आदमी से मिलने का अखिलेश यादव इस बार आम जनता से मिलने या विकास के लिए नहीं आए। सिर्फ एक व्यक्ति से मिलने आए जयाप्रदा ने कहा मैं अखिलेश जी से पूछना चाहती हूं जब मैं सपा में थी तो मुझे न्याय कब मिला एआरटीओ मेरे ऑफिस में आया और मेरी गाड़ी की लाल बत्ती उतार ली।

अपने बयान पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि मैंने किसी का नाम नहीं लिया है। मैं जानता हूं कि मुझे क्या कहना चाहिए। अगर कोई साबित कर देता है कि मैंने कहीं, किसी का नाम लिया है, किसी का अपमान किया है, तो मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा।

समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता एवं राज्यसभा सदस्य अमर सिंह की करीबी सहयोगी जयाप्रदा सपा के टिकट पर दो बार रामपुर से निर्वाचित हुई हैं। अगर भाजपा उन्हें रामपुर से टिकट देती है तब उनका मुकाबला समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान से होगा।