afghanistan

नंगरहार के प्रांतीय पुलिस प्रमुख जनरल जुमा गुल हेमट ने इस हमले के बारे में बताया कि मारे गए सभी मजदूर सोर्ख रॉड जिले के प्लास्टर कारखाने में काम करते थे। उन्होंने बताया कि सभी मजदूर अफगानिस्तान के अल्पसंख्यक शिया हजारा समुदाय के थे।

तालिबानी आतंकी संगठन के खिलाफ कार्रवाई करते हुए अफगान की सेना ने 20 आतंकियों को मार गिराया। बता दें कंधार प्रांत में सेना ने आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन चलाया था।

अफगानी सेना ने धावा बोलते हुए 30 से ज्यादा आतंकी मार गिराए हैं। इसके साथ ही कई आतंकियों के घायल होने की भी खबर है। ऐसे में अफगानिस्तान सरकार का कहना है कि मारे गये आतंवादियों में 16 आतंकवादी पाकिस्तानी हैं।

कबुल में बम धमाके का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। वीडियो को देखकर रूह कांपी जाएगी, तो वहीं इस वीडियो को देखकर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है। लोग वीडियो देख अपनी नाराजगी जता रहे हैं।

अफगानिस्तान सरकार के डिफेंस सर्विस और अलग अलग राज्य सरकारों की ओर से रिपोर्ट में 67 तालिबानी आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि की गई है। अफगानिस्तान सरकार का कहना है कि अफगानिस्तान के कई हिस्सों में नेशनल डिफेंस एंड सिक्योरिटी फोर्सेस तालिबानी आतंकियों के खिलाफ बड़ा ऑपरेशन चला रही है।

अफगानिस्तान को ईरान के हेरात प्रांत से जोड़ने वाली बहुत महत्वपूर्ण बॉर्डर इस्लाम काला पर ये हादसा हुआ। बीती 13 फरवरी को सैकड़ों ट्रकों को चपेट में ले चुकी आग की भीषण रूप धारण किए हुए हाई-रिसॉल्यूशन सैटेलाइट तस्वीरों में साफ देखी जा सकती है।

अफगानिस्तान से दागे गए रॉकेट से पाकिस्तान में चीख पुकार मच गई है। दरअसल, यहां पर धमाके में एक 5 साल के मासूम बच्चे की मौत हो गई है। जबकि सात बच्चे घायल हो गए हैं।

अफगानिस्तान में आज सुबह धरती कांपने के बाद लोगों में हड़कंप मच गया। जानकारी के मुताबिक, देश के हिंदू कुश क्षेत्र में गुरुवार को तड़के 4 बजे सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए।

तालिबानी हमले में 16 सैनिक के मारे जाने के बाद इलाके में सेना की एक यूनिट तैयार कर दी गई है और आतंकियों की तलाश की जा रही है। 

अफगानिस्तान में एक बार फिर से जलालाबाद में जज हफिजुल्ला को जान से मारने का मामला सामने आया है। जज की हत्या के बारे में अफगान पुलिस के मुताबिक, बीते एक महीने में तीन जजों की हत्या की जा चुकी है। जिसके बाद फिर ताजा घटना बुधवार को सामने आया है।