against

कोरोना के चलते पूरे देश में लॉकडाउन है, लेकिन लोग अपनी गैर जिम्मेदाराना हरकत से बाज नही आ रहे हैं। गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने बताया कि जनपद गौतमबुद्ध नगर में लॉकडाउन का कड़ाई से अनुपालन कराया जा रहा है।

कोरोना के बढ़ते स्तर को देखते हुए देश भर में लॉकडाउन है। सरकार लगातार लोगों को एहतिहात बरतने और अपने-अपने घरों में रहने की अपील कर रही हैं। ऐसे में पुडुचेरी में कांग्रेस विधायक जॉन कुमार के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। कांग्रेस विधायक पर आरोप है कि उसने कोरोना वायरस लॉकडाउन के आदेशों का उल्लंघन किया है।

दिल्ली विधानसभा में एनपीआर और एनआरसी के खिलाफ शुक्रवार को प्रस्ताव पारित कर दिया गया। पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने यह प्रस्ताव पेश किया था। प्रस्ताव पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार से पूछा कि कोरोना से देश में चिंता है और अर्थव्यवस्था का बुरा हाल हो चुका है

इंटरपोल ने गुजरात पुलिस के अनुरोध पर बाबा नित्यानंद का पता लगाने में मदद करने के लिए ब्लू कार्नर नोटिस जारी किया है। यह नोटिस ऐसे व्यक्ति के लिए जारी किया जाता है जो अपराधी हो और जिसकी तलाश की जा रही हो।

अभी बीते दिनों ही हैदराबाद में एक महिला डॉक्टर से दरिंदगी घटना से शहर उबरा भी नहीं था  कि महिला डॉक्टर से गैंगरेप के बाद उसकी हत्या और फिर शव को जलाने की संगीन वारदात सामने आई।इसके बाद देश भर में आक्रोश है। इस मामले में गिरफ्तार आरोपियों को लोग सौंपने की मांग कर रहे थे

जिला कारागार में बंद श्रमजीवी एक्सप्रेस कांड के दोनों आतंकवादियों की पेशी के दौरान पुलवामा की घटना को लेकर नाराज अधिवक्ताओं ने आज न्यायालय में जम कर विरोध किया जिसके कारण सुनवाई नहीं हो सकी बतादे जौनपुर के जिला सेशन कोर्ट में पेशी थी।

पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों और हमले को लेकर गोरखपुर के लोग इस कदर नाराज है, कि अब वो सड़कों पर उतर गए है। और आज हिन्दू मुस्लिम सभी व्यापारी एक होकर दुकाने बंद कर कार्यवाही की मांग कर रहे हैं।

सबसे बड़ी अनुशासित पार्टी का दम्भ भरने वाली भाजपा का अनुशासन मौजूदा समय मे सोनभद्र में देखा जा सकता है । जब भाजपा के क्षेत्रीय सांसद ने अपने ही भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है । रॉबर्ट्सगंज से सांसद छोटेलाल खरवार ने उनसे गाली गलौच करने वाले 7 भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया है ।FIR में तीन नामजद और 4 अज्ञात लोग शामिल है ।

सीजेएम ने पूर्व डिप्टी एस0पी0 शैलेंद्र सिंह के खिलाफ मुकदमा वापस लेने की राज्य सरकार की अर्जी मंजूर कर ली है। शैलेंद्र सिंह के खिलाफ यह केस 2008 में हजरतगंज थाने पर आईपीसी की धाराअेंा 143,147,353,504 व 506 , पब्लिक प्रापर्टी डैमेज कंट्रोल एक्ट की धारा 2/3 तथा क्रिमिनल ला अमेंडमेंट एक्ट की धारा 7 के तहत दर्ज हुआ था जिसमें विवेचना के बाद अरोपपत्र दाखिल हुआ था।