agra

डोनाल्ड ट्रंप सोमवार को प्रेम के प्रतीक ताजमहल के दीदार करने पहुंचे। ताज को देख एक तरफ वे उत्साहित थे, तो दूसरी ओर उनके मन में कई सवाल थे।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत दौरे पर आ रहे हैं। इस दौरान वह ताजमहल देखने भी जाएंगे। ताजमहल देखने पहुंचे ट्रंप को आगरा में कई शानदार तोहफे दिए जाएंगे। ये तोहफे उन्हें भारतीय कला और संस्कृति की याद दिलाते रहेंगे।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आगरा दौरे को लेकर सस्पेंस बना हुआ है, लेकिन इसके बावजूद जबरदस्त सुरक्षा इंतजाम किए जा रहे हैं। हालांकि, राष्ट्रपति ट्रंप और उनके परिवार के सुरक्षा की जिम्मेदारी अमेरिकी सीक्रेट सर्विस के पास होगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सोमवार को आगरा में ताजमहल देखने जा रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके परिवार के सदस्यों के साथ मौजूद रहने की संभावना नहीं है। आधिकारिक सूत्रों से यह बात सामने आयी है।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत आने वाले हैं। वह उत्तर प्रदेश भी जाएंगे। डोनाल्ड ट्रंप 24 फरवरी की शाम अहमदाबाद से सीधे आगरा के ताजमहल का दीदार करने जाएंगे।

देश के सर्वोच्च न्यायालय की सुरक्षा के नजरिए से ताजमहल के दीदार के लिए तय की गई गाइडलाइन के कारण राष्ट्रपति ट्रम्प के ताजमहल दर्शन का ट्रम्प दम्पति का सपना अधूरा भी रह सकता है। हालांकि इस संबंध में अभी कोई आधिकारिक निर्णय नहीं लिया गया है।

नागरिकता संशोधन कानून(सीएए) के समर्थन में भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) देश में अभियान चला रही हैं। इसके साथ ही अलग-अलग जगहों पर पार्टी के बड़े नेता रैली कर रहे हैं। इसी कड़ी में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने उत्तर प्रदेश के आगरा में एक रैली को संबोधित किया।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद बनने के बाद जेपी नड्डा सबसे पहले उत्तर प्रदेश के दौरे पर हैं, जहां वह सीएए के समर्थन में आगरा में रैली करेंगे।

नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएए) को लेकर चल रहे भाजपा के जनजागरूकता अभियान के तहत लखनऊ में केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह की रैली के बाद अब भाजपा के नवनियुक्ति अध्यक्ष जगत प्रसाद नड्डा की पहली रैली आगरा में गुरुवार को होने जा रही है।

ताजमहल के अंदर 4 कब्रे बनाई गई है। ताजमहल से पहले इस स्थान पर जयपुर के महाराजा जय सिंह का अधिकार था यहां पर महल से लेकर और अनेक प्रकार की खूबसूरत चीजें बनी हुई थी। कहा तो ये भी जात है कि ताजमहल की जगह पर शिव मंदिर बना था।