ajit doval

केंद्र की मोदी सरकार ने ऐतिहासिक और अभूतपूर्व फैसला लेते हुए जम्मू-कश्मीर को विशेष अधिकार देने वाले अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया है। जम्मू-कश्मीर अब केंद्र शासित प्रदेश बन गया है और लद्दाख को भी कश्मीर से अलग कर केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया है।

नई दिल्ली: राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल ने रविवार को काउंटर टेररिस्ट ग्रिड की अहम बैठक की। इस बैठक का मकसद जम्मू-कश्मीर पर मंडरा रहे आतंकी हमले का खतरा था। जानकारी के अनुसार, आतंकी हमले का इनपुट सुरक्षा एजेंसियों के पास मौजूद है। यह भी पढ़ें: World Hepatitis Day: ऑटोइम्यून हेपेटाइटिस से खुद को रखें …

शुक्रवार को गृह मंत्रालय की तरफ से बयान जारी कहा गया था जिसके मुताबिक कश्मीर घाटी में सीआरपीएफ की 50, बीएसएफ की 10, एसएसबी की 30, आईटीबीपी की 10 कंपनियां तैनात की जाएंगी।

कश्मीर घाटी में सीआरपीएफ की 50, बीएसएफ की 10, एसएसबी की 30, आईटीबीपी की 10 कंपनियां तैनात की जाएंगी। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल के कश्मीर दौरे से लौटते के बाद वहां 10 हजार अतिरिक्त सुरक्षा बल भेजने के फैसला लिया गया है। कुछ जवान वहां पहुंचाए भी जा चुके हैं।

भारत-पाकिस्तान के बीच हवाई हमलों के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो से टेलिफोन पर लंबी बात की है। सूत्रों के मुताबिक पॉम्पियो ने कहा, अमेरिका भारत की एयर स्ट्राइक का समर्थन करता है।

पाकिस्तान में एयर स्ट्राइक करने के बाद बुधवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एक उच्चस्तरीय बैठक बुलाई। इस बैठक में अजीत डोभाल के साथ रॉ और आईबी के चीफ भी मौजूद रहे। आपको बता दें, पाकिस्तान के बालाकोट में वायुसेना के हवाई हमले से बौखलाए पाकिस्तान के फाइटर जेट प्लेन ने बुधवार सुबह 10 बजकर 5 मिनट पर भारत के हवाई क्षेत्र का उल्लंघन कर दिया।

नई दिल्ली : भारत और चीन सीमा के मुद्दे पर यहां शुक्रवार को अपने विशेष प्रतिनिधियों की वार्षिक बैठक आयोजित करेंगे। विदेश मंत्रालय ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल विशेष प्रतिनिधियों की 20वीं बैठक में भारत के विशेष प्रतिनिधि होंगे, जबकि चीन का प्रतिनिधित्व स्टेट काउंसिलर और कम्युनिस्ट पार्टी के पोलित ब्यूरो सदस्य यांग …

हेमबर्ग (जर्मनी) में जी-20 सम्मेलन से इतर पीएम नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच हुई मुलाकात में डोकलाम विवाद का हल निकालने की आधारशिला रखी गई थी।

बीजिंग : भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने ब्रिक्स सम्मेलन के दौरान शीर्ष अधिकारियों की मुलाकात से इतर शुक्रवार को यहां चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात की। डोभाल ने सदस्य देशों -ब्राजील, रूस, और दक्षिण अफ्रीका- के अपने समकक्षों के साथ सुरक्षा मुद्दों पर उच्च प्रतिनिधियों की सातवीं ब्रिक्स बैठक के बाद …

बीजिंग : चीन की राजधानी बीजिंग में शुक्रवार से ब्रिक्स सुरक्षा बैठक शुरू हो गई है। भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने कहा कि इस बैठक में जिन ‘महत्वपूर्ण’ मुद्दों पर चर्चा होगी और उसके जो परिणाम निकलेंगे, उसका असर सितंबर में होने वाले मुख्य सम्मेलन पर पड़ेगा। डोभाल ने सुरक्षा मुद्दों पर उच्च …