akhilesh yadav

लगभग डेढ़ हजार पर्वतीय जनों के बीच अखिलेश यादव ने सर्वप्रथम भगवान बागनाथ बागेश्वर महादेव मंदिर से आई ज्योति का पुष्पांजलि के साथ अभिनंदन किया। उनके साथ नेता प्रतिपक्ष विधान परिषद अहमद हसन एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र चौधरी भी थे।

सभा में शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि स्व. बद्रीनाथ सिंह गरीबों के मसीहा थे। उनके रग-रग में सेवा भाव भरा था। उनकी सहजता ही उन्हें सभी से अलग करती थी। नेता शिवपाल ने इसके बाद भारतीय जनता पार्टी की केंद्र व राज्य सरकार की कार्यशैली पर हमला बोला।

समाजवादी पार्टी में शामिल होने वाले सभी नेताओं ने पार्टी की जीत के लिए एकजुट संघर्ष करने का एलान किया। इस अवसर पर पूर्व रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव ने नौजवानों को आशीर्वाद दिया।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जाति के आधार पर जनगणना की मांग दोहराते हुए भारतीय जनता पार्टी पर भारत की आबादी के 65 प्रतिशत युवाओं के..

सपा से अलग होकर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी बनाने वाले दिग्गज नेता शिवपाल सिंह यादव ने केन्द्र और प्रदेश की भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर हमला बोलने के साथ समाजवादी पार्टी पर भी  निशाना साधा।

आर्मी ऑफिसर की बेटी को प्रदेश के एक बड़े नेता के बेटे से प्यार हो गया पर राजनीति की बेड़ियां जब कसीं तो दोनों के प्यार में कुछ दूरियां भी आईं। आखिर नेता जी को बेटे के प्यार के आगे झुकना पड़ा।

सपा मुखिया ने सवाल उठाया कि नए-नए प्रयोग से अपराध कैसे कम होंगे? सिर्फ अधिकारियों की अदला बदली में व्यवस्था में बदलाव आने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि जनता पर लगातार अत्याचार हो रहा है। बलात्कार, हत्या, लूट और अपहरण की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है।

एटा पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि नागरिकता संशोधन कानून लोकसभा व राज्यसभा से पास हो जाने के बाद बीजेपी के लोग सड़कों पर निकले, बीजेपी के लोग खुद नहीं समझ पाए कानून के बारे में, अब वह क्या समझाने निकले हैं जनता को।

अपने पैतृक गांव सैफई पहुंचे पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने पत्रकारो से बात करते हुए कहा कि सरकार को कन्नौज बस हादसे में मरे हुए यात्रियों को दस-दस लाख रुपये का मुआवजा देना चाहिए और योगी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि मेरी सरकार के द्वारा कन्नौज में बनवाये जा रहे फायर स्टेशन का काम न रुकवाया होता तो आज यह हादसा नही होता सरकार अगर ध्यान देती तो बस नही जलती।