all india luxury buss association

AILBA के अंडर चलने वाली इन बसों से प्रतिदिन हजारों की संख्या में मुसाफिर सफर करते थे। लॉकडाउन के पहले इन में रिजर्वेशन तक मिलना मुश्किल था।