allahabad

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फारेस्टर पद पर प्रोन्नत कानपुर की प्राची शुक्ला को प्रोन्नति की तिथि से वेतन पाने का हकदार करार दिया है और प्रोन्नति आदेश को वापस लेने के प्रमुख मुख्य वन संरक्षक के आदेश को रद्द कर दिया है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रदेश में 1951-52 के राजस्व अभिलेखों में दर्ज तालाबों की बहाली को लेकर बड़ा फैसला दिया है। कोर्ट ने राज्य सरकार को तालाबों से अतिक्रमण हटाकर, उन पर दिए गए पट्टे समाप्त कर बहाली का निर्देश दिया है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने आजमगढ़ के संदीप श्रीवास्तव व अन्य परिवार के लोगों के खिलाफ मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट आजमगढ़ के समक्ष चल रहे दहेज उत्पीड़न व घरेलू हिंसा के मुकदमे सुनवाई पर रोक लगा दी है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने दारागंज प्रयागराज में मोरी स्थित सेठ बंशीधर गोपाल दास रस्तोगी धर्मशाला पर ट्रस्ट के उद्देश्य के विपरीत अवैध कब्जा हटाने के मामले में जिलाधिकारी को 6 माह में निर्णय लेने का निर्देश दिया है। कोर्ट ने डीएम से कहा है कि वह दोनों पक्षो को सुनकर धर्मशाला से अवैध कब्जा हटाने का आदेश दे।

कोर्ट ने नगर निगम और पीटीए कोई अभी निर्देश दिया है कि वह महात्मा गांधी मार्ग पर पार्किंग शुल्क कम किए जाने पर विचार कर निर्णय लें और अगली सुनवाई कोर्ट को अवगत कराएं कोर्ट ने जिला प्रशासन को सरदार पटेल मार्ग स्थित मल्टीलेवल पार्किंग का मेंटेनेंस करने का निर्देश दिया है।

द्वितीय सत्र का विषय था ‘गाँधी जी तथा दलित उद्धार’। इस विषय पर बोलते हुए जी0 बी0 पन्त सोशल साइंस इंस्टीट्यूट, इलाहाबाद के प्रोफेसर बद्री नारायण ने कहा कि गाँधी जी कहा करते थे कि आत्म जागरण से ही मुक्ति सम्भव है। गाँधी जी ने अपने दलित उद्धार के संघर्ष को अम्बेडकर को सौंपा

बार  एसोसिएशन ने सभा कर 28 अगस्त को भी न्यायिक कार्य बहिष्कार का फैसला लिया है। वकीलो की हड़ताल के चलते हाई कोर्ट में न्यायिक कार्य बुरी तरह प्रभावित रहा। 9वें दिन भी वकीलों का क्रमिक अनशन जारी रहा। बार के अध्यक्ष राकेश पांडेय व् महासचिव के नेतृत्व में नेताजी सुभाष चौक पर जनसभा हुई। विभन्न संगठनों के नेताओ ने अपना समर्थन दिया ।

इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय में सहायक प्रोफेसरों की भर्ती विज्ञापन के खिलाफ याचिका पर केंद्र सरकार, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग व इलाहाबाद विश्वविद्यालय से एक माह में जवाब मांगा है।

प्रयागराज: बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. मुरली मनोहर जोशी ने प्रयागराज से अपने सारे रिश्ते नाते तोड़ लिए हैं। दरअसल, प्रयागराज के टैगोर टाउन में स्थित बंगले अंगीरस को डॉ. मुरली ने बेच दिया। यह बंगला उन्होंने अपने पड़ोसी डॉ. आनंद मिश्रा और उनके भाई अनुपम मिश्रा के साथ ही दो …