america

अमेरिका ने कहा कि पाकिस्तान द्वारा चरमपंथी समूहों को समर्थन देने और उन्हें पनाह देना मुख्य कारण है, जिसकी वजह से भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत में बाधा होती है।

दमिश्क: कुर्द बहुल उत्तर पूर्वी सीरिया में तुर्की ने हमला बोल कर कई संदेश दिये हैं। इस कार्रवाई का एक नतीजा तो स्पष्टï है – पहले से ही त्रस्त सीरिया में तुर्की ने आग में पेट्रोल डाल दिया है। अमेरिका ने चेतावनी दी है कि अगर कुर्द सेनाओं पर हमले हुए तो तुर्की की आर्थिक …

वैश्विक महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने की नई रणनीति के तहत चीन विदेशी सरकारों को पैसे का लालच देने के साथ स्थानीय मूलभूत ढांचे में निवेश करने का वादा करता है और उसके बाद विकासशील देश कर्ज के जाल में बुरी तरह से फंस जाते हैं।

अमेरिका और चीन हांगकांग मामले को लेकर आमने-सामने आ सकते हैं। हांगकांग में अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों ने हांगकांग ह्यूमन राईट्स एंड डेमोक्रेसी एक्ट द्वारा मांगे गए एक विधेयक को मगंलवार को पारित कर दिया है।

अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर से बड़ी खबर आ रही है। बताया जा रहा है कि न्यूयॉर्क में अज्ञात हमलावरों ने अचानक फायरिंग की है। इस गोलीबारी में चार लोगों की मौत, जबकि 3 लोग घायल हो गए हैं।

अमेरिका और तुर्की के बीच तल्खी कम होने का नाम नहीं ले रही है। बताया जा रहा है कि अमेरिका ने अभी इस तल्खी को कम करने के लिए कदम बढ़ाया ही था कि तुर्की ने फिर ऐसी हरकत कर दी थी दोनों देशों के बीच एक बार फिर से युद्ध जैसे हालात बन गये है।

पुलिस ने बताया इस घटना में 9 लोगों को गोली लगी है, जिसमें से 4 की मौत हो गई और बाकी के पांच लोग घायल हो गए। वहीं अभी तक घटना के आरोपी को हिरासत में नहीं लिया गया है।

अमेरिका ने चेताया है कि पाकिस्तान में बैठे आतंकी संगठन जम्मू-कश्मीर में बड़ा हमला कर सकते हैं. अमेरिका का कहना है कि कश्मीर मसले पर पाकिस्तान की ओर से भारत में आतंकी हमले कराए जा सकते हैं.

इस संदंर्भ में रूस ने कहा है कि इन्हें मुहैया कराने का काम चल रहा है, रूस की यूक्रेन व सीरिया में सैन्य संलिप्तता और अमेरिकी चुनावों में हस्तक्षेप के आरोपों के कारण अमेरिका ने 2017 कानून के तहत उन देशों पर प्रतिबंध लगाने का प्रावधान किया है जो रूस से बड़े हथियार खरीदते हैं। कई मौके

चीन में कम्युनिस्ट शासन का 1 अक्टूबर से 70 साल पूरे हो रहे हैं। 70 साल पूरें होने की खुशी में चीन तैयारियों में लगा हुआ है। चीन जश्न के इस मौके पर एक सैन्य परेड करने जा रहा है। मिली जानकारी के मुताबिक, चीन के स्थापना दिवस की ये परेड अब तक की सबसे बड़ी़ परेड होगी।