america

अमेरिका के 244वें स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और वहां के लोगों को पीएम नरेंद्र मोदी ने बधाई देते हुए कहा कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के तौर पर “हम स्वतंत्रता और मानव उद्यम को महत्व देते हैं और इन्हीं मूल्यों को लेकर यह दिन मनाया जाता है।

अमेरिका सबसे बड़ी तैयारी कर चुका है। इसकी शुरुआत चीन की दिग्गज टेलीकॉम उपकरण कंपनी हुवावे और ज़ेडटीई को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा घोषित करके हो चुकी है।

भारत के साथ मजबूती से खड़े संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अमेरिका और जर्मनी ने दुश्मन देश पाकिस्तान और चीन को जबरदस्त जवाब दिया है।

बीते कई दिनों से दुनियाभर के वैज्ञानिक कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने में लगे हुए है। लेकिन अभी तक दुनिया की कई कंपनियों ने इस वायरस के लिए सिर्फ टीका ही तैयार करने का दावा किया है पर ट्रायल में सफल नहीं हो पाए हैं।

चीन की चालबाजी से पूरी दुनिया अच्छी तरह से परिचित है। पहले ही चीन ने कोरोना वायरस फैलाकर दुनियाभर में तबाही मचा दी है। दुनियाभर के देशों ने चीन की चौतरफा घेर लिया है। अमेरिका, ब्रिटेन और दुनिया के 27 देश चीन को करारा जवाब देने के लिए तैयार है।

लद्दाख में भारत के साथ सैन्य विवाद में उलझे चीन की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर घेरेबंदी तेज होती जा रही है। अब ऑस्ट्रेलिया ने भी चीन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

कोरोना वायरस के बाद चीन विश्व के निशाने पर है। इस महामारी के लिए  अमेरिका ने शुरू से चीन को जिम्मेदार ठहराया है। इसी बीच सीमा पर चीन के साथ विवाद को लेकर दुनियाभर में उसकी निंदा हुई। इधर सोमवार को भारत सरकार ने 59 चीनी ऐप को बैन कर बड़ा झटका दिया, इसके बाद अब अमेरिका ने भी कदम उठाया है।

अमेरिका में कोरोना के इलाज में अब तक की सबसे कारगर दवा रेमडेसिविर की कीमत प्रति मरीज दो हजार 340 अमेरिकी डॉलर यानी करीब 1.76 लाख रुपये हैं।

अमेरिका में कोरोना संकट के बीच इस साल के अंत में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव की गतिविधियां भी तेज हो गई हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का उस खबर पर बयान सामने आया है, जिसमें कहा गया था कि रूसी अधिकारियों ने गोपनीय तरीके से अफगानिस्तान में तालिबान को अमेरिकी सैनिकों की हत्या करने के लिए इनाम पेशकश की है।