amethi

गांधी नेहरू परिवार के करीबी नेता में गिने जाने वाले कांग्रेस के विधान परिषद सदस्य दीपक सिंह ने मंगलवार को एक ट्वीट कर उससे दो निशाना साधा है। दीपक सिंह जहां बीजेपी द्वारा दिल्ली वालों को दो रुपए किलो आटा देने के वादे पर सवाल उठाया है वहीं इसी वादे केंद्रीय मंत्री एवं अमेठी सांसद स्मृति ईरानी पर तंज कसा है।

संग्रामपुर थाना क्षेत्र के एक दलित की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी। इस मामले ने मंगलवार को उस समय तूल पकड़ लिया जब प्रतापगढ़ भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष मृतक प्रौढ़ के घर पहुंचे।

असगर अमेठी: गांधी-नेहरू परिवार का अमेठी वासियों से पारिअमेठी वारिक रिश्ता रहा है। बरसों इस रिश्ते को संजोने के लिए गांधी परिवार ने प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से जतन भी किया। लेकिन राहुल गांधी के सांसद बनने के बाद इन रिश्तों में खटास आना शुरू हुई। 2014 से दूरियां बढ़ी और 2019 आते-आते इसमें काफी …

बरसों से गांधी-नेहरू परिवार के गढ़ अमेठी में स्मृति ईरानी ने कांग्रेस को पांच साल के अंदर चारों खाने चित कर दिया। इसके पीछे स्मृति का संस्कार और कांग्रेस का अहंकार बड़ा कारण है।

प्रदेश में जब 2017 में बीजेपी की सरकार बनी थी तो दावा किया गया था के यूपी से भ्रष्ट्राचार खत्म हो जाएगा। अब ढ़ाई साल बाद हर दिन की तरह अमेठी में सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आया है। वायरल वीडियो में एडीओ पंचायत खुलेआम विकास कार्यों से जुड़ी फ़ाइल पास करने के लिए रिश्वत ले रहें हैं।

गोवंश संरक्षण के लिए सरकार के दावों की केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में पोल खुल गई है। करोड़ों के बजट के बावजूद गोवंश गो आश्रय के बजाए खेतों में जाकर पेट भरने के चक्कर में मौत को गले लगा रहे हैं।

मंत्री सुरेश पासी की विधानसभा क्षेत्र में लखनऊ-वाराणसी हाईवे में स्थापित कीचड़ युक्त और बदहाल बस स्टैंड को ही ले लीजिए। स्मृति ईरानी यहां की सांसद हैं और सुरेश पासी प्रदेश की सरकार में मंत्री, बावजूद इसके यात्रियों को असुविधा। ऐसे में सवाल लाजमी है, तो अब दोषी कौन कांग्रेस या बीजेपी?

सांसद एवं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र में सड़क दुर्घटना में मारे गए लोगों की मौत पर सियासत तेज हो गई है। शुक्रवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर सपा एमएलसी डाॅ राजपाल कश्यप के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल पीड़ित परिवारों के घर पहुंचा।

पूरे आठ महीने पहले जिस अमेठी में सोनिया गांधी के बेटे और प्रियंका गांधी के भाई राहुल गांधी को हार मिली गुरुवार को उसी अमेठी में मां-बेटी फिर पहुंची। प्रियंका ने पूर्व की तरह अमेठी की महिलाओं के लिए प्यार नौछावर किया।

पुलिसिया कार्यवाही के कुछ घंटे बाद कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने स्मृति ईरानी को कड़ा पत्र लिखा। उन्होंने लिखा है कि केंद्रीय मंत्री द्वारा दर्ज करवाई गई एफआईआर निम्न और घटिया स्तर का कृत्य है।