andhra pradesh

बहुत किस्से सुने होगें कि खुदाई से मुर्ति निकली, सोने से भरा पिटारा निकला और भी बहुत कुछ। लेकिन एक वाकया हुआ है यहां नदी के किनारे बने टीेले से रेत की खुदाई चल रही थी।

आंध्र प्रदेश में भयानक हादसा हुआ है। इस हादसे में 10 लोगों की मौत हो गई , तो वहीं कई लोग घायल हो गए हैं। आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले में बुधवार को एक ट्रैक्टर और लारी में भीषण टक्कर हो गई।

आंध्र प्रदेश सरकार के खिलाफ टिप्पणी को लेकर एक सरकारी डॉक्टर को निलंबित कर दिया गया। इसी को लेकर वह डॉक्टर सरकार के खिलाफ लामबंद हो गए।

गुरुवार का दिन हादसों वाला साबित हुआ। देश के कई राज्यों में हुई दुर्घटना में दर्जनों से अधिक लोगों ने अपनी जान गंवा दी। अब इस बीच आंध्र प्रदेश के प्रकाशम जिले में दर्दनाक हादसा हुआ है।

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में स्थित गाँव आरआर वेंकटपुरम में विशाखा एलजी पॉलिमर कंपनी है, यहां बीती देर रात अचानक खतरनाक जहरीली गैस का रिसाव होने लगा। इस जहरीली गैस के कारण फैक्ट्री के तीन किलोमीटर के इलाके प्रभावित हो गए।

कोरोना वायरस की जद में जो भी आ रहा है, उसे वह अपना शिकार बनाने से चूक नहीं रहा। हाल ही एक सबसे विरला मामला आंध्र प्रदेश से आया है। 70 पार कर चुके वृद्ध डॉक्टर इस्माईल, जो मात्र 2 रुपये की फीस पर लोगों की दवाई करते थे। रेड जोन होने के बावजूद उन्होंने अपनी सेवा नहीं छोड़ी और कोरोना ने उनको निगल लिया। अब उनके परिवारी जनों को भी कोरोना हो गया है। पढ़िए उनकी दर्द भरी कहानी उनके दोस्त के हवाले से। उनके दोस्त अब्दुल ने कहा कि अगर सामान्य दिनों में गया होता तो उसकी विदाई में बहुत लोग शामिल होते...

कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई सारे राज्य अपने-अपने तरीकों से काम कर रहे हैं। स्वास्थ्य सुविधाओं को मजबूत और लोगों को जागरूक...