anurag kashyap

हर दिन मजदूरी करने वाले वर्कस के लिए फेडरेशन ऑफ़ वेस्टर्न इंडिया सिने एंप्लॉइज और गिल्ड प्रोड्यूसर एसोसिएशन ने मिलकर वर्कर्स को राशन देने की मुहिम शुरू की है। अभी 5000 फ़ूड पैकेट ऑर्डर किए गए है वर्कर्स को राशन देने की प्रक्रिया रविवार से शुरू होगी और एक हफ़्ते तक यह मुहिम जारी रहेगी।

सीएए के खिलाफ देश भर में प्रदर्शन करने वाले जेएनयू के छात्रों के बीच शुक्रवार को चर्चित फिल्म निर्देशक और निर्माता अनुराग कश्यप पहुंचे। जामिया प्रदर्शन में पहुंचे अनुराग कश्यप ने प्रदर्शनकारी छात्रों के बीच खुलकर अपनी बात रखी हैं।

निर्माता निर्देशक अनुराग कश्यप जेएनयू के छात्रों और अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के समर्थन में उतरने के कारण सामने आ गए हैं। दरअसल उनकी नाराजगी यूपी की योगी सरकार से है जिसने उनकी फिल्मों के लिए फंड नहीं दिया।

जेएनयू में दमन के खिलाफ मुंबई मुंबई, 6 जनवरी। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में कल हुई घटनाओं का असर मुंबई पर भी पड़ा है। मुंबई के गेटवे ऑफ़ इंडिया पर कल रात से ही छात्रों का जमावड़ा देखा गया, जो यह खबर लिखे जाने तक भी चल रहा है। कल रात मुंबई में छात्रों का यह …

दिग्गज फिल्म निर्माता-निर्देशक अनुराग कश्यप समसामयिक मुद्दों पर सोशल मीडिया में अपनी बेबाकी से राय रखने के लिए जाने जाते है। कई बार इसका खामियाजा उन्हें ट्रोल होकर भुगतना पड़ता है। लेकिन इस बार उनके साथ कुछ अलग हुआ है।

अनुराग कश्यप और सलमान खान में वैसे ही अनबन चल रही है। अनुराग और सलमान की अनबन फिल्म ‘तेरे नाम’ से शुरू हुई थी। तब अनुराग ने सलमान को छाती पर बाल उगाने को कहा था लेकिन ये बात सलमान को पसंद नहीं आई, जिसकी वजह से अनुराग को फिल्म से निकाल दिया था गया था।

इस बात को खुद अनुराग ने माना है कि उनके और सलमान के संबंध ठीक नहीं हैं। वैसे सलमान के संबंध अनुराग के भाई अभिनव से भी अच्छे नहीं हैं। अभिनव पहले सलमान खान की फिल्म ‘दबंग’ को डायरेक्ट कर रहे थे लेकिन बाद में उनको अरबाज़ खान ने रीप्लेस कर दिया।

Article 370 या 35A, के बारे में में ज़्यादा नहीं कह सकता। इसका implication, history, या facts मैं अभी भी समझा नहीं हूं। कभी लगता है जाना चाहिए था, कभी लगता है क्यों गया। ना मैं कश्मीरी मुसलमान हूं, न कश्मीरी पंडित।

देश में मॉब लिंचिंग की घटनाएं बहुत तेजी से बढ़ रही है। इन बढ़ती घटनाओं को लेकर फिल्मी जगत की 49 हस्तियों ने पीएम मोदी को पत्र लिखा है। पीएम को लिखें पत्र में देशभर में भीड़ से लिंचिंग की बढ़ती घटनाओं पर गहन चिंता व्यक्त की है।