arun jaitely

फिरोजशाह कोटला स्टेडियम पर दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ ने एक बड़ा लिया है। दिल्ली एंव जिला क्रिकेट संघ ने फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम अरुण जेटली स्टेडियम करने का फैसला किया है। भाजपा के वरिष्ठ नेता अरूण जेटली का बीती 24 अगस्त को निधन हो गया था।

अरुण जेटली के जीवन में दो संख्याओं का बहुत महत्व रहा है । पहली संख्या  6 और दूसरी संख्या 9 है । संख्या 6 उनकी हर गाड़ी में होता ही था । 6666 नंबर की गाड़ी अरुण जेटली की ही होगी, यह उन्हें करीब से जानने वाले समझते थे ।

वह उनको इस नाम से इसलिए बुलाते थे क्योंकि जेटली को क्रिकेट खेलना बहुत पसंद था। यह बात बहुत कम लोगों को पता है। यही वजह थी कि जयराम रमेश जेटली को 'बेदी, प्रसन्ना, चंद्रा, वेंकट' कहते थे।

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का 66 की उम्र में आज दिल्ली के एम्स हॉस्पिटल मेें निधन हो गया। अरूण जेटली करीब दो हफ्ते से दिल्ली के एम्स में भर्ती थे। वे लम्बे समय से बीमार चल रहे थे। और आज दोपहर 12:07 पर अरूण जेटली ने आखिरी सांस लीं और दुनिया को अलविदा कहा।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भीषण आग लग गई है। बताया जा रहा है कि यह आग इमरजेंसी वार्ड के पास लगी है। मौके पर दमकल की 6 गाड़ियां मौजूद हैं। लोगों को अस्पताल से बाहर निकाला जा रहा है।

पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली की हालत काफी नाजुक बनी हुई है। एम्स में डॉक्टरों ने उनकी बिगड़ती हालत को देखते हुए वेंटिलेटर से हटाकर ईसीएमओ यानी एक्सट्राकॉर्पोरियल मेंब्रेन ऑक्सीजिनेशन पर शिफ्ट कर दिया है। डॉक्टर लगातार उनकी सेहत पर नजर बनाकर रखे हुए हैं।

पहले ये कहा जा रहा था कि जेटली की सेहत में सुधार हो रहा है लेकिन गुरुवार रात सर्जरी के बाद उनकी सेहत बिगड़ने की खबर आ रही है। 14 मई 2018 को अरुण जेटली का किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था। अरुण जेटली पेशे से वकील हैं और कई जिम्मेदार पदों को संभाल चुके हैं।

अरुण जेटली ने रविवार को कहा कि जब राहुल गांधी के दिवंगत पिता राजीव गांधी के नेतृत्व वाली सरकार की ईमानदारी के मुद्दे उठाए जाते हैं और बोफोर्स तोप सौदे में ‘‘क्यू’ कनेक्शन के बारे में सवाल किए जाते हैं, तब कांग्रेस अध्यक्ष (राहुल) परेशान क्यों हो जाते हैं। 

वित्त मंत्री अरूण जेटली ने बुधवार को कहा कि राफेल मामले में पुनर्विचार के लिये लीक दस्तावेजों को आधार बनाने की अनुमति देने का निर्णय पूरी तरह से प्रक्रियागत विषय है।

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को कांग्रेस पर हमेशा ‘ओबीसी-विरोधी होने का आरोप लगाया’ और कहा कि कांग्रेस हमेशा अन्य पिछड़ा वर्ग(ओबीसी) के आरक्षण कोटे को कम करना चाहती है। जेटली ने कहा कि कांग्रेस अब ज्यादा से ज्यादा विचारधारा-विहीन पार्टी बन गई है और अब केवल मोदी-विरोधी होना इसकी विचारधारा बन …