Ashish Sinha

भारत वृद्धि के रास्ते पर जिस तरह तेजी से आगे बढ़ रहा है उसमें वैश्विक हितधारकों के लिये भारत के साथ मिलकर ऊर्जा, बुनियादी ढांचा तथा प्रौद्योगिकी क्षेत्र में गठबंधन स्थापित करने की काफी संभावनायें हैं।