Ashok Sinhal

रामजन्म भूमि बाबरी मस्जिद विवाद का ऐतहासिक फैसला आने के बाद हिन्दू समाज में खुशी और उल्लास की लहर तो है पर उसके पीछे कई हिन्दूवादी नेताओं का त्याग और समर्पण शामिल रहा है। जिन्होंने इस आंदोलन में भाग लिया।