astrology news

माह –फाल्गुन,तिथि – दशमी ,पक्ष – कृष्ण,वार – मंगलवार,नक्षत्र – मूल, सूर्योदय – 07.01, सूर्यास्त – 18.00। आज मंगलवार बजरंगबली का दिन हनुमान चालीसा से करें दिन की शुरुआत, जानिए 12 राशियों का राशिफल..

शादी के बाद व्यक्ति के जीवन में बहुत बदलाव आते हैं। व्यक्ति के जीवन में चुनौतियों और जिम्मेदारियों में भी इजाफा होता है। ऐसे में जिंदगी में खुशियों के साथ कई तरह की समस्याएं भी आती हैं। जैसे कि संतान से संबंधित। 

माह-माघ, दिन रविवार, तिथि-पूर्णिमा, नक्षत्र-अश्लेषा, पक्ष-शुक्ल, सूर्योदय-07.15, सूर्यास्त-17.58। सेहत, नौकरी,प्यार के लिए 12 राशियों का दिन कैसा रहेगा।

अपने ग्रहों की चाल है। नवग्रहों की चाल मानव को न केवल परेशानी में डालती है, बल्कि कभी की स्थिति विकट भी हो जाती है। आज हम आपको नवग्रहों को शांत करने का ऐसा तरीका बता रहे हैं, जिसमें आपको ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं, जिन्हें कर आप अपने नवग्रहों को आसानी से शांत कर सकते हैं, वह भी बिना रुपये खर्च किए।

सकट चौथ व्रत आज मनाया जा रहा है। इसे संकष्टी चतुर्थी के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन महिलाएं अपने परिवार की सुख और समृद्धि के लिए निर्जल व्रत रखती है और गणेश जी की बड़े ही धूमधाम से पूजा करती है। जिससे परिवार पर कभी भी किसी तरह की कोई समस्याएं न आए

माह – पौष, तिथि – एकादशी ,पक्ष – कृष्ण, वार – रविवार, नक्षत्र – स्वाति , सूर्योदय – 07:09, सूर्यास्त – 17:29, चौघड़िया चर – 08:31 से 09:47,लाभ – 09:47 से 11:03, अमृत – 11:03 से 12:20, शुभ – 13:36 से 14:52

माह-पौष,तिथि – नवमी,पक्ष – कृष्ण,वार – शुक्रवार,नक्षत्र – हस्त,सूर्योदय – 07:08, सूर्यास्त – 17:28, चौघड़िया चर – 07:13 से 08:30, लाभ – 08:30 से 09:46,अमृत – 09:46 से 11:02,शुभ – 12:19 से 13:35

कल यानि 12 दिसंबर 2019 का दिन हिंदू पंचांग में बहुत महत्व रखता है। इस दिन मार्गशीर्ष पूर्णिमा है। धर्मानुसार पूर्णिमा को विशेष तिथि के रूप में देखा जाता है। हर माह की शुक्ल पक्ष की आखिरी तिथि पूर्णिमा कहलाती है। ज्योतिषानुसार, इस पूर्णिमा की रात को चंद्रमा भी ग्रहों की मजबूत स्थिति में रहता है।

हिंदू मास व पंचांग के अनुसार पौष का महीना दसवां मास होता है। पौष मास की पूर्णिमा को चन्द्रमा पुष्य नक्षत्र में रहता है और इसी कारण इस महीने को पौष का मास कहते हैं। इस महीने में भगवान सूर्यनारायण की विशेष पूजा अर्चना से उत्तम स्वास्थ्य और मान सम्मान की प्राप्ति होती है।दरअसल जिस महीने की पूर्णिमा को चंद्रमा जिस नक्षत्र में होता है उस महीने का नाम उसी नक्षत्र के आधार पर रखा जाता है।

हिंदू धर्म में कार्तिक माह का बड़ा महत्व है। पूरे मास स्नान करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं। भगवान विष्णु को ये मास बहुत प्रिय है। इस मास के आखिरी दिन कार्तिक पूर्णिमा का महत्व सारी तिथियों में अधिक है। 12 नवंबर को कार्तिक पूर्णिमा  है।इस दिन गंगा स्नान और दीपदान करना चाहिए।