astrology r

यदि शादी हुए काफी समय बीत गया है और  संतान सुख से वंचित हैं तो भगवान शिव संतान सुख का आशीर्वाद भी प्रदान करेंगे, साथ ही यदि धन की कमी आ रही है या आमदनी नहीं बढ़ रही है तो इस समस्या का समाधान भी होगा। नीचे तीन उपाय दिए गए हैं, 

सहारनपुर : भारतीय ज्योतिष शास्त्र में गंडमूल नक्षत्रों को दोषकारी माना जाता है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार जब किसी शिशु का जन्म गण्डमूल नक्षत्र में हो तो इसको गंडमूल दोष कहा जाता है। इसके कारण बालक और उसके माता-पिता एवं भाई-बहिनों के जीवन पर कष्टकारी प्रभाव पड़ता है इसलिए इस नक्षत्र में पैदा हुए शिशु …