atal bihari vajpayee

देश की सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के गठन के आज 40 ऐतिहासिक साल पूरे हो गए हैं। इस दौरान पार्टी ने शून्य से शिखर तक का जो सफर तय किया है वो कई मायनों में ऐतिहासिक रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को देश की इस समस्या का समाधान निकालते हुए देशवासियों को बड़ा तोहफा दिया है। ख़ास बात ये हैं कि पीएम के इस ख़ास तोहफे का ऐलान पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की 95 जयंती और क्रिसमस के मौके पर किया गया।

अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) का नाम भारतीय राजनीति में बड़े ही सम्मान से लिया जाता है। भाजपा ही नहीं अन्य दलों के नेता भी अटल जी खूबियों की चर्चा बेबाक होकर करते हैं। उनके लिए अगर लोगों के सम्मान के किस्सों पर बात करें तो कई ऐसी कहानियाँ हैं। लेकिन सबसे ख़ास में से …

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने केन्‍द्रीय क्षेत्र योजना अटल भू-जल योजना (अटल जल) के कार्यान्‍वयन को अपनी मंजूरी दी है।

देश के पूर्व प्रधानमंत्री और बीजेपी के दिग्गज नेता अटल बिहारी वाजपेयी की आज 25 दिसंबर को 95वीं जयंती है। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती के मौके पर पीएम मोदी समेत कई बड़े नेताओं ने उनको श्रद्धांजलि अर्पित की है।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मंगलवार को अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती की पूर्व संध्या पर रोहतांग दर्रे के नीचे से गुजरने वाली सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण निर्माणाधीन सुरंग का नाम आज पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर करने की मंजूरी दे दी।

25 दिसंबर को देश के भूतपूर्व प्रधनमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती है। अटल बिहारी वाजपेयी का जन्म 25 दिसंबर 1924 को मध्यप्रदेश के ग्वालियर में हुआ था। वाजपेयी का जन्म स्कूल शिक्षक के परिवार में हुआ।

भारतीय जनता पार्टी को शिखर तक पहुंचाने वाले भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का जयंती 25 दिसंबर को है।राजनीति में धूमकेतु की तरह चमकने वाले अटल बिहारी वाजपेयी जी साल1996 में पहली बार केवल 13 दिन के लिये प्रधानमंंत्री बने थे।