atm

एटीएम का इस्तेमाल करने वालों के लिए बड़ी खबर है। अगर आप भी एटीएम का प्रयोग करते हैं, तो सावधान हो जाएं नहीं तो पूरी जिंदगी की कमाई सेकेंडों में उड़ सकती है। क्योंकि उत्तर कोरिया एक मैलवेयर (वायरस) के जरिए भारत में एटीएम इस्तेमाल करने वाले लोगों का डाटा चोरी कर रहा है।

क्रेडिट-डेबिट कार्ड से पेमेंट करना अब हो जाएगा और भी आसान और ये सब 1 सितम्बर से ही शुरू हो गया है। आरबीआई ने अब अपने बैंकों को कस्टमर्स को क्रेडिट और डेबिट कार्ड के लिए ई-मैंडेट फैसिलिटी देने को कहा है। ये फैसिलिटी छोटे अमाउंट वाले रिकरिंग यानी नियमित तौर पर होने वाले ट्रांजैक्शंस के लिए होगी।

अगर आप एक दिन में ATM से 10,000 रुपये से अधिक की निकासी करना चाहते हैं तो आपको ओटीपी भी डालना होगा। यह जानकारी सार्वजनिक क्षेत्र के केनरा बैंक ने दी है।    

यूपी के शाहजहांपुर पुलिस ने एक ऐसे शातिर चोर को गिरफ्तार किया है। जो एटीएम से पैसे उङाने का काम करता था। उसके पास से 37 एटीएम बरामद हुए है।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने गुरुवार को आम जनता के हित को लेकर कई बड़ी घोषणाएं की हैं। आरबीआई ने RTGS-NEFT से पैसा ट्रांसफर करने पर चार्ज हटाने का फैसला लिया है, तो वहीं एटीएम से पैसे निकालने पर लगने वाले चार्ज को लेकर भी कुछ संकेत दिए हैं।

अकेली युवती के साथ एक युवक ने एटीएम के अन्दर यौन उत्पीड़न किया है। मिली जानकारी के मुताबिक युवती म्यूजिक शो से घर लौट रही थी। लगभग ढाई बजे रात को घर आने पर युवती ऑटो को किराया देने के लिए एटीएम गई थी। 

पुराने कार्ड को बदलने की आज आखिरी तारीख है। 30 अप्रैल 2019 से मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले कार्ड काम करना बंद कर देंगे। ऐसा डेबिट और क्रेडिट कार्ड की सुरक्षा के लिए उठाया गया कदम है।

थाना फेस -2 क्षेत्र के सेक्टर 82 स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम में मंगलवार दोपहर को पैसा डालने आए गार्ड व गनमैन के साथ हथियार के बल पर मारपीट कर अज्ञात बदमाशों ने करीब 40 लाख रूपया लूट लिया।विरोध करने पर बदमाशों ने गार्डों पर गोली चलाई।

आपके या आपके घर के किसी सदस्य के पास डेबिट या एटीएम कार्ड जरूर होगा। अगर उसमें कोई चिप नजर आती है तो वह EMV Chip डेबिट कार्ड है। चिप आधारित डेबिट और क्रेडिट कार्ड को 1 जनवरी 2019 से ही अनिवार्य कर दिया गया है।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अपने ग्राहकों को बेहतर सर्विस देने के लिए एक बड़ा कदम उठाने जा रहा है। ऐसे में जिन ग्राहकों के पास पुराना एटीएम कार्ड (डेबिट कार्ड), उन्हें अगर ग्राहकों ने 31 दिसंबर तक नहीं बदलवाया तो उनका कार्ड ब्लॉक हो जायेगा।