atm

बसपा प्रमुख ने याद दिलाया कि तमिलनाडु की सीएम जयललिता के निधन के घटनाक्रम में मरने वालों के परिजनों को वहां की सरकार 600 लोगों को तीन-तीन लाख रूपये दे रही है। पीएम मोदी इसकी परवाह करने के बजाय लोगों से और कुर्बानी देते रहने की मांग करते रहे।

नोटबंदी के मुद्दे पर सरकार की ओर से उठाए जा रहे कदम की जानकारी देते हुए आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने गुरुवार को कहा कि यह पहला मौका है जब नोट देश में डिजाइन किए गए हैं।

राजा भइया ने कहा कि नोटबंदी का फैसला सही है। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि इस कदम से पहले केंद्र सरकार को समुचित व्यवस्था करनी चाहिए थी। सपा सरकार में मंत्री राजा भइया पत्रकारों द्वारा आयोजित भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ के एक सम्मेलन में शामिल होने पहुंचे थे।

रिटायर्ड आईएएस अफसर अनिल कुमार गुप्ता ने हैरानी जताते हुए कहा है कि 8 नवम्बर के बाद चिकुनगुनिया और डेंगू के बारे में कहीं समाचार नहीं है। जबकि अस्पतालों में अभी भी चिकुनगुनिया और डेंगू के मरीजों की भरमार है। पर उनकी तरफ किसी का ध्यान नहीं जा रहा है।

नई दिल्ली: साल के आखिरी महीने की शुरुआत हो गई है। आज दिसंबर महीने का पहला दिन है और सैलरी डे के चलते बैंकों और एटीएम के बाहर लंबी कतारें लग गई हैं। हर कोई रुपए निकालने की जद्दोजहद में लगा है। गुरुवार 1 दिसंबर की सुबह से ही बैंकों और एटीएम मशीनों के बाहर …

लखनऊ: जब से मोदी सरकार ने 500-1000 रुपए के नोट पर सर्जिकल स्ट्राइक की है, तब से लोगों की परेशानी बढ़ गई है। इसकी वजह से न केवल बड़े-बुजुर्ग परेशान हैं बल्कि लड़के-लड़कियों को भी अपने कॉलेज वगैरह की फीस भरने के लिए लाइन में लगना पड़ रहा है। बैंकों के बाहर 8 से 9 …

केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद की देखरेख में कमेटी की एक बार बैठक भी हो चुकी है। नीति आयोग के अधिकारियों का कहना है कि गांवों में अब ज्यादा से ज्यादा पैसे भेजे जा रहे हैं ताकि परेशानी दूर की जा सके।

नई दिल्ली: जब से मोदी सरकार ने 500 और 1000 रुपए के नोट पर बैन लगाया है, तब से देश भर में हाहाकार की स्थिति मची हुई है। जिधर देखो, उधर ही लोग पैसों को लेकर परेशान हैं। जहां-जहां बैंक या एटीएम हैं, वहां-वहां लंबी लाइनें लगी हुई हैं बैंक हो या एटीएम लोगों से …

नई दिल्ली: मोदी सरकार के 500 और 1000 रुपए की नोटबंदी के बाद देश भर में लोग हैरान-परेशान हैं। एक तो नोट बदलने की तारीख भी सीमित रखी गई है। ऐसे में जगह-जगह की बैंकों और एटीएम मशीनों के बाहर मेले की स्थिति बनी रहती है। लोग सुबह से लेकर शाम तक लाइन में लगे …

देशभर में बैंकोंं के आगे लगी लंंबी-लंबी कतारें लोगों को प्रधानमंत्री मोदी के फैसले से हो रही दिक्‍कतों को बयां करने के लिए काफी हैं। लेकिन इन लोगों को नोट बांटने वाले और पब्लिक केे गुस्‍से का शिकार होने वाले बैंक कर्मियों के सब्र का बांध भी सोमवार को टूट गया। राजधानी में सोमवार को ऑल इंडिया बैंक आफिसर्स कंफेडरेशन की यूपी इकाई की एक बैठक हुई। इस बैठक में हर बैं‍क कर्मी यही कहता नजर आया कि आरबीआई हमें सपोर्ट नहीं कर रहा है।