ayodhya ram mandir

ठंड के चलते श्री राम जन्मभूमि पर विराजमान रामलला ने रजाई ओढ़ ली है। मौसम के बदलते मिजाज और तेजी से बढ़ती ठंड से बचाने के लिए बाल स्वरूप रामलला के लिए ब्लोअर लगाया गया है। इससे बाल स्वरूप के भगवान श्री रामलला पर ठंड का कोई असर नहीं पड़ेगा।

रेलवे पहले चरण में 104 करोड़ की लागत से भव्य अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन का निर्माण कर रहा है। यह रेलवे स्टेशन राम मंदिर मॉडल की तर्ज पर बनाया जा रहा है। इसे बाहर से देखने पर राम जन्मभूमि मंदिर का व्यू मिलेगा।

राम की नगरी अयोध्या में हो रहे भव्य दीपोत्सव ने एक नया विश्व कीर्तीमान रच दिया है। 5 लाख 84 हजार दीयों के साथ अयोध्या दीपोत्सव ने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज लिया है।

श्री राम जन्मभूमि विवाद अदालत से फैसला आने के बाद पहली बार अयोध्या में निर्विवाद श्री राम जन्मभूमि पर 11000 दिया जलाकर जलाकर दीपावली मनाए जाने का का रास्ता खुल गया है। अयोध्या में राम सीता लक्ष्मण का भव्य स्वागत स्वयं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया।

28 साल बाद पहली बार रामलला के दरबार में दीपावली उत्सव धूमधाम से मनाया जाएगा। दीपोत्सव की तैयारी में रामलला के पुजारी के अलावा श्रद्धालु और अयोध्यावासी भी अभी से जुट गए हैं।

अयोध्या के बहुप्रतीक्षित राम मंदिर के निर्माण में भरतपुर के प्रसिद्ध गुलाबी पत्थरों का इस्तेमाल किया जाएगा। भरतपुर जिले के बांसी पहाड़पुर में पाया जाने वाला यह पत्थर दुनिया भर में प्रसिद्ध है और अब राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने बांसी पहाड़पुर में खनन को वैध बना दिया है।

नृपेंद्र मिश्रा यहां दो दिन रूककर मंदिर निर्माण का कार्यक्रम शुरू करवाएगें। निर्माणाधीन कम्पनी लार्सन टृब्रो कम्पनी के इंजीनियर पहले ही यहां पहुंच चुके हैं।

अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण होने के पहले ही योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री बनते ही राम की नगरी को पर्यटन के लिहाज से विकसित कर ना शुरू कर दिया था।

अयोध्या में बनने वाले विशाल राम मंदिर के निर्माण में बुंदेलखंड के पत्थरों से बनी गिट्टी का ही प्रयोग होगा। इन्हीं गिट्टियों पर ये विशाल राम मंदिर खड़ा होगा।

दिल्ली आतंकी हमले को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। शनिवार सुबह स्पेशल सेल की टीम द्वारा पकड़े गए आईएसआईएस आतंकी ने खुलासा किया है कि अयोध्या राम मंदिर में धमाका करने की आतंकी साजिश थी।