Bihar

बिहार से एक हैरान कर देने वाली खबर आ रही है। यहां भीड़ हिंसा(मॉब लिंचिंग)  में हत्या का मामला दर्ज होने और 23 आरोपियों के जेल जाने के तीन महीने बाद मरने वाला युवक जिंदा लौट आया।

बिहार के मोतिहारी में स्थित एक एनजीओ के किचन में बॉयलर फटने से चार लोगों की मौत हो गई है। वहीं पांच से ज्यादा लोग घायल हैं। यह घटना शनिवार सुबह सुगौली में घटित हुई। घायलों को अस्पताल में भर्ती किया गया है।

बिहार के चर्चित गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह का आज गुरुवार को पटना में निधन हो गया। 74 साल की  अवस्‍था में वह जिंदगी की पारी हार गए।  वह 40 साल से मानसिक बीमारी सिज़ोफ्रेनिया से पीड़ित थे।पटना मेडिकल कॉलेज ऐंड हॉस्पिटल में भर्ती थे। पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने भी वशिष्ठ नारायण सिंह के निधन पर शोक जताया।

बिहार में बड़ा हादसा हो गया है। इस हादसे में तीन बच्चियों समेत सात की मौत हो गई है। नवादा में कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर नहाने गई दो युवतियों की डूबकर मौत हो गई, तो वहीं बचाने गए एक शख्स की भी डूबकर मौत हो गई।

यूपी और बिहार में अलग -अलग सड़क हादसों में एक दर्जन लोगों की मौत हो गई।  उत्तर प्रदेश के मेरठ के सरधना क्षेत्र में गंगनहर पटरी मार्ग पर सड़क हादसे में पांच युवा इंजीनियरों ने दम तोड़ दिया।

धवार की सुबह भी दो हत्‍याओं के साथ हुई। अपराधियों ने जमुई में एक कपड़ा व्‍यवसायी तथा मोतिहारी में एक किसान की हत्‍या कर दी। इसके पहले मंगलवार को दिन-दहाड़े दो व्‍यवसायियों, एक जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) नेता तथा एक किन्‍नर सहित नौ लोगों को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया।

छठ पूजा के दौरान बिहार के समस्तीपुर में रविवार सुबह भयानक हादसा हो गया। ये हादसा समस्तीपुर के हसनपुर में छठ पर्व के दौरान तालाब में मंदिर की दीवार गिरने से हुआ। इस हादसे में 2 लोगों की मौत हो गई।

छठ पूजा के पावन अवसर पर बिहार के औरंगाबाद में पूजा के दौरान भगदड़ मच गई। इस भगदड़ में 2 बच्चों की मौत हो गई है। हादसे में कुछ लोगों के घायल होने की खबर भी है। ये भयानक हादसा देव प्रखंड मुख्यालय स्थित सूर्यकुंड के पास का है।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को साफ कर दिया कि उनकी जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) पार्टी भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार में शामिल होने वाली नहीं है। वह पहले भी इस ऑफर को ठुकरा चुके हैं।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को दिल्ली में हुई जनता दल यूनाइटेड(जेडीयू) के राष्ट्रीय परिषद की बैठक में सर्वसम्मति से एक बार फिर राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया है। नीतीश कुमार 2022 तक पार्टी के अध्यक्ष बने रहेंगे।